खड़े ट्रक से 320 लीटर डीजल चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के 4 सदस्य गिरफ्तार

*चोरी के और भी हो सकते हैं खुलासे2, साइबर सेल की मदद से पकड़ाए आरोपी* 


अनूपपुर

थाना गौरेला में दिनांक 18-07-2024 को  प्रार्थी प्रकाश रजक पिता श्री राम लाल रजक उम्र 38 वर्ष निवासी ग्राम बरबसपुर जिला अनूपपुर म.प्र. निवासी थाना गौरेला में एक आवेदन पेश कर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 12.07.2024 को प्रार्थी की गाड़ी नं. सीजी 10B Q 5357 रामपुर से कोयला लोड करके चाँपा जा रही थी जहां रास्ते में मेढुका तिराहे में गाड़ी खड़ी करके ड्रायवर सो गया था। अज्ञात चोरों ने गाड़ी से टंकी तोड़कर 320 लीटर डीजल चोरी करके सेंसर को नुकसान पहुंचाया गया है की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 252/24 धारा 305(C) BNS पंजीबद्ध कर अन्वेषण शुरू किया गया । 

साइबर सेल की टीम द्वारा उपलब्ध सीसीटीवी फुटेज के आधार पर शिनाख्तगी करते हुए पतासाजी करने पर आरोपियों  को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर आरोपियों ने अपने अपने मेमोरेण्डम कथन में घटना दिनांक 12.07.2024 को संयुक्त रूप से गाडी नं. CG10BQ5357 से 200 लीटर डीजल चोरी करना स्वीकार किया एवं घटना में प्रयुक्त कार कमांक UP62AJ0025 एवं आरोपियो के संयुक्त कब्जे 200 लीटर डीजल पेश करने पर विधिवत जप्त किया गया है। आरोपियो के खिलाफ साक्ष्य संकलन कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

*गिरफ्तार आरोपियों के नाम* 

दुर्गेश कुमार कुशवाहा पिता गणेश प्रसाद कुशवाहा उम्र 32 वर्ष, राहुल लोनी पिता राजा लोनी उम्र 25 वर्ष साकिनान सेमरा थाना बुढार जिला शहडोल, राम प्रकाश राठौर पिता सुखराम राठौर उम्र 35 साल साकिन सीतापुर थाना जिला अनुपपूर, सूरज कुमार गुप्ता पिता गुलाब चंद गुप्ता उम्र 31 साल साकिन समातपुर अनुपपुर

हज यात्रा के नाम पर ठगे 12 लाख, टूर एंड ट्रैवल्स के संचालक पर मामला दर्ज


अनूपपुर

हज यात्रा करने के नाम पर दंपति से 12 लाख रुपए की ठगी की शिकायत पर बिजुरी पुलिस ने पुलिस ने अलफलाह टूर एंड ट्रैवल्स एंड हज उमराह टूर के प्रोपराइटर सैयद तनवीर उल्लाह निवासी याकूब पटेल चौक अकोट जिला अकोला महाराष्ट्र के खिलाफ विभिन्न धाराओं में अपराध दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

बिजुरी निवासी सकीर अहमद पिता इशहाक निवासी ने बताया कि हज यात्रा पर जाने के अलफलाह टूर एंड ट्रैवल्स एंड हज उमराह टूर के प्रोपराइटर सैयद तनवीर उल्लाह निवासी याकूब पटेल चौक अकोट जिला अकोला महाराष्ट्र से फोन पर संपर्क करते हुए हज यात्रा के लिए 12 लाख रुपए स्वयं तथा पत्नी कुरैशा बेगम के लिए दिए गए। इसके बाद 8 जून को हज यात्रा के लिए मुंबई से प्लेन से यात्रा का समय बतलाया गया जिसके अनुसार मुंबई पहुंचे। जहां पहुंचने पर 2 दिन तक प्लेन रद्द होने की बात कह कर उन्हें घुमाया गया। इसी तरह छत्तीसगढ़ के यात्री भी उन्हें मिले जिनके साथ भी टूर ट्रेवल्स के संचालक के द्वारा धोखाधड़ी करते हुए रुपए लेने के बाद उन्हें लगातार झूठ बोला जा रहा था, जिससे परेशान होकर सकीर अहमद पत्नी के साथ अपने घर लौट आए। जहां फोन पर अलफलाह टूर एंड ट्रैवल्स एंड हज उमराह टूर के प्रोपराइटर सैयद तनवीर उल्लाह से बात करने पर उसके द्वारा रुपए वापस करने की बात कही गई। इसके कुछ दिनों के बाद उसके द्वारा 6 लाख रुपए के दो चेक भेजे गए जिसे भुगतान के लिए लगाए जाने पर बैंक द्वारा चेक को बाउंस हो गया। लगातार धोखाधड़ी किए जाने के पश्चात मामले की शिकायत शकीर अहमद ने पर बिजुरी थाना में अपराध की धारा 420, 406, 409 के तहत दर्ज कराया, पुलिस मामले की जांच कर रहीं है।

अलग-अलग जिले में आकाशीय बिजली गिरने से तीन की मौत


शहड़ोल

तेज गरज के साथ आकाशीय बिजली गिरने से तीन दिनों में दो लोगों की मौत हो गई है। यह हादसा गोहपारू थाना क्षेत्र के लेदरा गांव में हुआ, जिसमें एक पुरुष और एक महिला की जान गई है। आकाशीय बिजली गिरने से 37 वर्षीय महिला की मौत हो गई थी। अब उसी क्षेत्र में घर के समीप आकाशीय बिजली गिरने से 35 वर्षीय युवक की मौत हो गई है। थाना प्रभारी विनय सिंह गहरवार ने बताया कि विनोद बैगा (35 वर्ष) घर के आंगन में कुछ काम कर रहा था, तभी तेज बारिश के साथ आकाशीय बिजली गिर गई, जिसकी चपेट में आने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। तेज आवाज सुनकर घटना के बाद घर के लोग बाहर निकले तो देखा कि विनोद अचेत अवस्था में आंगन में पड़ा हुआ था। उसे तुरंत परिजनों ने अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। तीन दिन पहले ही आकाशीय बिजली की चपेट में आने से खेत में काम कर रही एक महिला की मौत हुई थी। यह घटना भी लेदरा गांव में ही घटित हुई थी।

*आकाशीय बिजली से किसान की मृत्यु*

अनूपपुर जिले में सुबह से रुक-रुककर हो रही बारिश में कोतमा थाना अंतगर्त ग्राम गढ़ी में खेत जा रहे किसान पर आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मृत्यु हो गई। जानकारी अनुसार जिले में हो रही बारिश में कोतमा थाना अंतगर्त ग्राम गढ़ी के किसान 80 वर्षीय रमपत साहू अपने खेत जा रहें थे, इसी दौरान आकाशीय बिजली गिरने से चपेट में आ गया, जिससे मृत्यु हो गई। पुलिस ने पंचनामा बनाकर पोस्टमॉर्टम करा शव परिजनों को सौप कर मर्ग कायम कर लिया हैं।


अमलाई रेलवे कोल साइडिंग फिर से होगा शुरू, हाई कोर्ट ने रेलवे के पक्ष में सुनाया फैसला

*व्यापारियों और उद्योगपतियों को मिलेगी भारी राहत, सुगम परिवहन की मिलेगी सुविधा*


बिलासपुर

अमलाई रेलवे कोल साइडिंग गुड्स शेड मामले में महत्वपूर्ण फैसला आया है। मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय, जबलपुर (प्रधान खंड पीठ) ने रेलवे के पक्ष में निर्णय सुनाते हुए गुड्स शेड को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से सीटीओ लेने के बाद फिर से चालू करने की अनुमति दी है। इस फैसले के बाद, रेलवे प्रशासन ने तुरंत अमलाई गुड्स शेड को फिर से सक्रिय करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। 

ज्ञात हो कि कुछ स्थानीय लोगों द्वारा रेल कोल यातायात के कारण प्रदूषण उत्पन्न होने एवं स्थानीय रहवासियों की प्रदूषण के कारण उत्पन्न हो रही परेशानियों को देखते हुये उच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई थी। उच्च न्यायालय द्वारा 25 अप्रैल 2024 से अमलाई रेलवे गुड्स शेड पर प्रतिबंध लगा दिया गया था | 

मंडल रेल प्रबंधक प्रवीण पाण्डेय के मार्गदर्शन व बरिष्ट मंडल वाणिज्य प्रबंधक अनुराग कुमार सिंह के निर्देशन में रेलवे प्रशासन द्वारा इस याचिका को चुनौती देते हुये उच्च न्यायालय द्वारा चाहे गए सभी मुद्दों पर जानकारी प्रदान की गई साथ ही मजबूती से अपने पक्ष को रखा गया। परिणाम स्वरूप बहुत ही अल्प समय लगभग 03 माह के अंदर ही उच्च न्यायालय ने रेलवे के दलीलों से संतुष्ट होकर रेलवे के पक्ष मे निर्णय सुनाते हुए अमलाई गुड्स शेड को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की मान्य शर्तों के साथ फिर से चालू करने की अनुमति दी गई है ।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अनुराग कुमार सिंह ने बताया, "हम उच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हैं और इसे जनता के हित में एक महत्वपूर्ण कदम मानते हैं। इससे न केवल माल परिवहन में तेजी आएगी, बल्कि क्षेत्रीय अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी। गुड्स शेड के फिर से चालू होने से स्थानीय व्यापारियों और उद्योगपतियों को भारी राहत मिलेगी, जो अपने माल के तेज और सुगम परिवहन के लिए इस शेड पर निर्भर रहते थे। इस आदेश से कोयले के अलावा विद्युत, प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम, फर्टिलाइजर, स्टील, कच्चा तेल एवं सीमेंट के उत्पादन एवं वितरण में अत्यधिक लाभ होने की संभावना है। इस प्रकार पावर, सुरक्षा जैसे आधारभूत तत्वों के न केवल संरक्षण बल्कि उत्पादन को भी सुनिश्चित किया जा सकेगा। यह कदम रेलवे के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की दिशा में भी एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित होगा।रेलवे प्रशासन ने यह भी सुनिश्चित किया है कि गुड्स शेड के संचालन में किसी भी प्रकार की रुकावट या बाधा नहीं आएगी और सभी प्रक्रियाएं सुचारू रूप से चलेंगी।

कबाड़ का काम बंद कर दे नही तो जान से मार दूंगा, धारदार हथियार दिखा बदमाशों ने लूटे लाखों रुपए

*कबाड़ के कारोबारियों के बीच हुआ विवाद सीसीटीवी में कैद हुई वारदात*


शहडोल 

जिला मुख्यालय में अपराधी प्रवृत्ति के दबंग कबाड़ी अपने अन्य साथियों के साथ दूसरे कबाड़ी के कबाड़ के दुकान में धारदार हथियार के साथ पहुंचे। जहां डरा धमका कर 1 लाख से अधिक रुपए लेकर फरार हो गए। इतना ही नहीं जाते-जाते कबाड़ी ने धमकी दी की जल्द कबाड़ का काम बंद कर दे, क्योंकि उसके कबाड़ का काम प्रभावित हो रहा, नहीं तो वो उसे जान से मार देगा।

धारदार हथिया लहराने व धमकी देने का घटना कबाड़ दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। वहीं पीड़ित मामले की एफआईआर के लिए थाने के चक्कर लगता रहा। लेकिन सोहागपुर पुलिस उस रसूखदार दबंग लुटेरा कबाड़ी के खिलाफ कार्रवाई करने से बच रही है। बार-बार शिकायत लेकर जाने के बाद सोहागपुर पुलिस ने मामूली धाराओं के तहत मामला दर्ज कर इस मामले से अपना पल्ला झाड़ लिया।

सोहागपुर थाना क्षेत्र के बाणगंगा तिराहे के पास रहने वाले नुरुल हसन कबाड़ का कारोबार करते हैं। लेकिन वही जिले में कबाड़ का काम करने वाले उमर अंसारी, अब्दुल करीम, अब्दुल रहमान अपने अन्य साथी सादिक और औरंगजेब के साथ कबाड़ के दुकान में आकर गली-गालौच करते हुए कबाड़ का काम बंद करने की धमकी दी। आरोपी ने यह तक कह दिया कि तुम्हारे कबाड़ का काम अच्छा चल रहा, जिससे हमारा कबाड़ का काम प्रभावित हो रहा है। जल्द कबाड़ का काम बंद कर दो नहीं तो जान से हाथ धोना पडेगा।

फरियादी ने बताया कि, उनके दो अन्य साथियों ने धारदार हथियार निकाल कर मेरे पास रखे 1 लाख रुपए लुट कर फरार हो गए। इधर धारदार हथिया लहराने व धमकी देने की घटना कबाड़ दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। हैरत की बात तो यह है कि पीड़ित द्वारा मामले की एफआईआर के लिए थाने के चक्कर लगता रहा, लेकिन सोहागपुर पुलिस उस रसूखदार दबंग लुटेरा कबाड़ी के खिलाफ कार्रवाई से बचती रही। बाद में फिर सोहागपुर पुलिस ने मामूली धाराओं के तहत मामला दर्ज अपना पल्ला झाड़ लिया।

इन दिनों जिले में कबाड़ियों के हौसले इतने बुलंद है कि, जिले में लगे 11केवी चालू लाइन वायर को काटकर कई लाखों का वायर को चोरी किया था। जिस मामले में शहडोल पुलिस ने 5 चोरों के अलावा 5 कबाड़ियों के खिलाफ भी कार्रवाई की थी। इतना ही नहीं कबाड़ी खुलेआम हथियार के दम पर एसईसीएल से कबाड़ की चोरी तो करते ही है, लेकिन कबाड़ी लोगों के घरों में भी चोरी कराते हैं।

जिले के कोयलांचल में बंद पड़ी कोयला खदान में कबाड़ चोरी करने गए 7 लोगों की मौत हो गई थी, जिसके बाद शहडोल पुलिस ने कबाड़ियों पर सख्ती बरतते हुए कार्रवाई भी की थी, लेकिन पुलिस के नरम रवैया के बाद पुनः कबाड़ियों के एक बार फिर हौसले बुलंद हो रहे हैं। वहीं इस पूरे मामले में सोहागपुर थाना प्रभारी भूपेंद्र मणि पांडे का कहना है कि रिपोर्ट लिखने में विलम्ब की बात निराधार है, पीड़ित शिकायत पर उक्त लोगों पर मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

2 करोड़ 29 लाख का घोटाला, उप संचालक कृषि से होगी वसूली, कलेक्टर ने निलंबन का भेजा प्रस्ताव

*जैविक खेती से जुड़ी योजना में केचुए व सामग्री वितरण के नाम पर करोड़ों डकार गए अधिकारी*


अनूपपुर

देशभर में जैविक के खेती के सर्वाधिक रकबा वाले मप्र के अनूपपुर जिले में कृषि विभाग के अधिकारियों ने भ्रष्टाचार की फसल उगाई। वर्ष 2018 से 2020 में जैविक खेती के लिए किसानों को दिए जाने वाले केंचुए और अन्य सामग्री में गड़बड़ी कर 2 करोड़ 29 लाख रुपये का घोटाला किया हैं।

*आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ में शिकायत*

आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ रीवा ईकाई को शहडोल निवासी दीपक मिश्रा ने शिकायत कर गड़बड़ी की जांच की मांग की थी। इसके बाद कलेक्टर आशीष वशिष्ट ने अपनी टीम भेजकर जांच कराई तो गड़बड़ी की शिकायत सही पाई गई। इस आधार पर कलेक्टर ने शासन और आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ को जानकारी भेजकर जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

*5 हजार किसानों को दिया जाना था साहित्य व प्रशिक्षण*

योजना के अंतर्गत जिले के विभिन्न गांवों के पांच हजार किसानों को वर्मी कंपोस्टिंग बेड, जैविक खाद, केंचुआ, जाल, साहित्य और प्रशिक्षण दिया जाना था। इसके लिए जिला खनिज निधि से छह करोड 93 लाख रुपये आवंटित किए गए थे। इसमें दो करोड़ 90 लाख रुपये कृषि विभाग की कृषि प्रौद्योगिकी प्रबंधन एजेंसी (एटीएमए) परियोजना, अनूपपुर को सामग्री खरीदने के लिए, 2.93 लाख रुपये प्रशिक्षण और अन्य कार्यों के लिए और 1.08 करोड़ रुपये मिट्टी परीक्षण के लिए एक निजी कंपनी को दिए गए। प्रति किसान 9770 रुपये आवंटित किए गए।

*दो करोड़ 29 लाख की वसूली व निलंबन का भेजा प्रस्ताव*

जिला प्रशासन की जांच में कई किसानों ने बताया कि केंचुआ और अन्य सामग्री उन्हें मिली ही नहीं। जो मिली भी वह घटिया थी। मिट्टी परीक्षण के नाम पर भी गड़बड़ी की गई। किसानों ने यह भी बताया कि उन्हें कोई प्रशिक्षण नहीं दिया गया। कलेक्टर ने कृषि उप संचालक एनडी गुप्ता से दो करोड़ 29 लाख रुपये वसूली के साथ विभागीय जांच और निलंबन का प्रस्ताव भेजा है।

अपर कलेक्टर अमन वैष्णव ने बताया कि आर्थिक अपराध शाखा से पत्र मिला था जिस पर जांच कमेटी जिला स्तर पर गठित हुई थी, जांच की गई जिसमें सत्यता पाई गई। डीएमएफ मद से वर्ष 2018 से 2020 के बीच कृषि विभाग में दो करोड़ 29 लाख का भ्रष्टाचार पाया गया। इसकी जानकारी आर्थिक अपराध शाखा रीवा और शासन स्तर पर भेज दी गई है। शिकायत शहडोल निवासी दीपक मिश्रा द्वारा आर्थिक अपराध शाखा में की गई थी।

मेडिकल कॉलेज की प्रशिक्षु महिला चिकित्सक सृष्टि सड़क हादसे की शिकार, हालत गंभीर


अनूपपुर । 

जिला मुख्यालय की होनहार छात्रा कुमारी सृष्टि सोनी पिता रामगोपाल सोनी अनूपपुर ने एमबीबीएस की पढ़ाई टीचिंग यूनिवर्सिटी गोमेडी तिब्लिसी जोर्जिया यूरोप में पूरी की जहां पर उसे सफलता मिली एवं एमबीबीएस की डिग्री भी मिल गई जिससे वह अब डॉक्टर सृष्टि सोनी पद से सुशोभित हो गई। 

इसके पश्चात शासकीय बिरसा मुण्डा चिकित्सा महाविद्यालय मे प्रशिक्षु एक महिला चिकित्सक के रूप में अपनी सेवाएं देने लगी। शहडोल में एक बड़े सडक हादसे का शिकार हो गई।वह स्कूटी समेत ट्रक के पहिए मे फंसने के बाद लगभग चालीस मीटर तक घसिटती रहीं और अंत मे फिर सडक से दूर जा फेंकाई।घटना के बाद चिकित्सक को गंभीर हालत मे मेडिकल कॉलेज मे भर्ती कराया गया है।जहाँ गहन चिकित्सा यूनिट मे उनका इलाज चल रहा है। 

इस संबंध मे मिली जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज मे प्रशिक्षु चिकित्सक के रूप मे पदस्थ सृष्टि सोनी सोमवार को ड्यूटी करने के बाद दोपहर लगभग 2 बजे अपनी स्कूटी क्रमांक एमपी 65 जेडए 2318 से घर जा रहीं थी।जैसे ही वह मेडिकल कॉलेज चौराहा से हाइवे मे पहुंची तभी बुढ़ार की ओर से तेज रफ़्तार आ रहे ट्रक क्रमांक टीएन 46 एस 6369 की चपेट मे आ गई।जिसके बाद वह स्कूटी समेत ट्रक के पहिये मे फंस गई और करीब 40 मीटर तक घसिटने के बाद सडक मे दूर फेंका गई।जबकि स्कूटी अब भी ट्रक के पहिए मे फंसी हुईं थी।वहाँ आसपास मौजूद लोगो द्वारा ट्रक चालक को इशारा करते हुए वाहन रोकने को कहा। लेकिन उसने ट्रक नही रोका।लगभग आधा किलोमीटर तक स्कूटी को वह घसीटता हुआ आगे ले गया।ज़ब पुलिस के डायल 100 ने ट्रक का पीछाकर उसे रुकवाया तब जाकर ट्रक के पहिए थमे।

थाना प्रभारी सोहागपुर भूपेंद्र मणि पांडे ने बताया कि ट्रक चालक को हिरासत में लिया है,पूछताछ की जा रही है ट्रक को थाने में लाकर खड़ा कराया है।मेडिकल कॉलेज अधीक्षक डॉक्टर नगेंद्र सिंह ने बताया कि इंटर्नशिप कर रही डॉक्टर सृष्टि सोनी को सड़क हादसे में गंभीर चोट पहुंची है,उनके सर में गंभीर चोट है,मुझे जब जानकारी लगी तो मैं खुद जाकर उन्हें देखा हूं,डॉक्टर की टीम उनका इलाज कर रही है।

सम्पत्ति विवाद पर हत्‍या के तीनों आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार


उमरिया

21 जुलाई 2024 को आरोपी राजेन्‍द्र प्रसाद गुप्‍ता ने ग्राम तिखवा में सम्‍पत्ति के हिस्‍सा-बांट के विवाद के कारण अपनी बहू प्रभा गुप्‍ता को तलवार से घायल कर दिया और अपने समधी रामाश्रय गुप्‍ता की तलवार से मारकर हत्‍या कर दिया। इस घटना पर दिनांक 22 जुलाई 2024 को थाना पपौंध में अपराध क्र. 154/2024 धारा 103(1), 109( 3(5) बी.एन.एस. अपराध पंजीबद्ध किया गया और आरोपीगण राजेन्‍द्र प्रसाद गुप्‍ता (ससुर), नीतेश गुप्‍ता (पति) एवं सुमित्रा गुप्‍ता (सास) तीनों निवासी ग्राम तिखवा थाना पपौध जिला शहडोल को गिरफ्तार कर लिया गया।  

उक्‍त घटना की सूचना मिलते ही दिनांक 21 जुलाई 2024 को एडीजीपी डीसी सागर ने थाना प्रभारी पपौंध एवं अनुसंधान टीम के साथ घटना स्‍थल पहुँचे और अपराध का पर्यवेक्षण कर पुलिस अधीक्षक शहडोल एवं अनुसंधान टीम को अपराध के अनुसंधान में वैज्ञानिक, फोरेंसिक, सायबर फोरेंसिक, परिस्थितिजन्‍य साक्ष्‍य आदि के आधार पर अग्रिम कार्यवाही करने के दिशा निर्देश दिये गये। 

----

रश्मि अध्यक्ष, ज्योतिका सचिव समेत इनरव्हील क्लब की नई टीम के पदाधिकारियों ने ली शपथ


शहडोल

सूर्या इंटरनेशनल होटल में इनरव्हील क्लब की नई टीम ने शपथ ली ।नई टीम की अध्यक्ष रश्मि जसवानी और सचिव ज्योतिका श्रीवास्तव के साथ इनकी पूरी टीम ने शपथ ली। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि पास्ट डिस्ट्रिक्ट चेयरमैन इनस्टलिंग आफिसर मनीषा श्रीवास्तव रहीं। उन्होंने क्लब की जमकर तारीफ की और एक एक नया सदस्य बनाने के लिए कहा। 

इनरव्हील क्लब का स्थापना समारोह बुढार नगर पालिका अध्यक्ष शालिनी सरावगी एवं भूतपूर्व नगर पालिका अध्यक्ष शहडोल उर्मिला कटारे के विशिष्ट आतिथ्य में संपन्न हुआ। नव नियुक्त अध्यक्ष रश्मि जसवानी, सचिव ज्योतिका श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष गीतिका खोडियार, कोषाध्यक्ष नीलम गुप्ता, एडिटर दशमीत कौर, आइएसओ रुखसाना खान ने नए दायित्व ग्रहण की शपथ ली, इसके साथ ही नए सदस्यों ने भी शपथ ग्रहण किया स्वागत गीत अंजलि वाजपेई एवं वसुधा मिश्रा के द्वारा प्रस्तुत किया गया। इनर व्हील प्रार्थना अंतिमा श्रीवास्तव, निर्मल बग्गा एवं संध्या शर्मा के द्वारा प्रस्तुत की गई। नई सदस्य शालिनी शुक्ला, सुनीता गौतम एवं पूजा खोडियार ने भी शपथ ग्रहण की। कार्यक्रम का संचालन उषा सिंघल एवं डाली मिश्रा के द्वारा किया गया। वर्तमान सचिव ज्योतिका श्रीवास्तव ने बताया कि हमारी टीम सर्वाइकल कैंसर अवेयरनेस एवं वैक्सीनेशन, सेनेटरी हाइजीन, ग्लोबल वार्मिंग, मेडिकल कैंप पर कार्य करेगी। शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व प्रेसिडेंट मोनिका दुबे, पूर्व सचिव अर्चना शर्मा, रेनू कटारे, अदिति तिवारी, अपर्णा उपाध्याय, अंतिमा श्रीवास्तव,नीतू मौर्य, संध्या शर्मा, दीपिका निगम, नीलू भट्टाचार्य, रत्ना गुप्ता, शोभना गुप्ता, निर्मल बग्गा इत्यादि शामिल रहे।कार्यक्रम में रोटरी क्लब, विराट रोटरी क्लब के पदाधिकारी व पूर्व पदाधिकारियों व सम्भाग के पत्रकारो की भी मौजूदगी रही।

मेला भूमि में अतिक्रमणकर्ता ने एक हिस्सा तोड़ किया दिखावा, प्रशासन नही कर रहा कार्यवाही

*क्या अतिक्रमण से छुटकारा के लिए सिर्फ कागजी खानापूर्ति, आखिर अतिक्रमणकारी को किसका संरक्षण?*


अनूपपुर

बेसकीमती सरकारी भूमि पर कब्जा हो जाता है पक्की दिवार के साथ मकान भी बन जाते हैं, लेकिन न तो पटवारी को सरोकार है और ना राजस्व विभाग को और न ही नगर परिषद् को । यहां तक कि शिकायत के बाद भी कार्रवाई से परहेज या दिखावे मात्र की कार्यवाही किया जाना कई सवाल खड़े करता है। ऐसा ही एक गंभीर मामला बरगवां अमलाई नगर परिषद् के वार्ड क्रमांक एक में स्थित मेला भूमि के खसरा क्रमांक 144 /1  का  है, जिस पर अतिक्रमण कर्ता चेतराम चोरसिया द्वारा लम्बी दिवार और मकान  बनाकर अतिक्रमण कर अवैध कब्ज़ा  किया है । इस सम्बन्ध में ग्रामीणों द्वारा लगातार शिकायत होने के बाद राजस्व विभाग द्वारा की गई जाँच में  उक्त मेला भूमि में अतिक्रमण होना पाया गया। अतिक्रमण के अनुक्रम में  चेतराम चौरसिया के विरूद्ध मप्र भू राजस्वा संहिता 1959  की धारा 248  पर 041 /अ-68 /2022-23  प्रकरण दर्ज करते हुए 13 सितम्बर 2023  को बेदखली सम्बंधित आदेश पारित किया गया और दिनांक 29  जून 2024 को  उन्हें निश्चित अवधि में अपने कब्जे स्वत: ही हटा लेने और नहीं हटाये जाने पर बेदखली की कार्यवाही किए जाने की बात कही गई, तदुपरांत अतिक्रमणकर्ता द्वारा महज दिखावे के लिए अतिक्रमण की गई पक्की चहारदीवारी के कुछ हिस्से को तोड़ कर उसमे लगे हुए गेट को निकाल लिया गया बाकि की चहारदीवारी का लगभग सौ मीटर का हिस्सा अभी भी जस का तस खड़ा है मतलब कुल रकवे की 2.24  एकड़ अतिक्रमित जमीन से लगभग तीन से चार डिसमिल जमीन मात्र ही कब्जे से मुक्त किया गया है। बाकी के हिस्से में अभी भी अतिक्रमण यथास्थिति में है। जानकारी के अनुसार इस कार्यवाही के बाद प्रशासन का कोई भी अधिकारी शासकीय जमीन से कब्जा हटाने मौके की वास्तविकता देखने की कितना कब्जा हटाया या कितना नहीं आज दिनांक तक नहीं पहुंचा और न ही उक्त सरकारी भूमि का सीमांकन कर तार व स्वामित्व का बोर्ड नही लगाया है। ऐसी स्थित में ग्रामीणों का यह कहना गलत नहीं कहा जा सकता है की मेला भूमि से अतिक्रमण का न हटना उसके पीछे दो कारण हो सकते है या तो अतिक्रमण कर्ता द्वारा अतिक्रमण के एक छोटे हिस्से को तोड़कर प्रशासन को गुमराह किया जा रहा है की अतिक्रमण हटा लिया गया है या फिर अतिक्रमणकर्ता को किसी बड़े अधिकारी का संरक्षण प्राप्त है।

बेटी के घर समझौता करने पहुंचे पिता की हत्या, बेटी गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती


उमरिया

जिले के पपोंध थाना क्षेत्र अंतर्गत रविवार की दोपहर करीब 3:00 बजे हुए विवाद के बाद एक की हत्या कर दी गई और एक को गंभीर अवस्था में स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है,जिसकी हालत गंभीर बताई गई है,घटना के संदर्भ में बताया गया कि उमरिया जिले के ताला मझौली में रहने वाले रामाश्रय गुप्ता की बेटी की शादी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम तिखवा में हुई थी आज दोपहर करीब 12:00 बजे रामाश्रय अपने 22 साल के बेटे विवेक के साथ ग्राम तिखवा पहुंचा था, यहां दोनों ही परिवारों के बीच में बैठकर बात हुई है और थोड़ी ही देर बाद दोनों के बीच विवाद होने लगा, रामेश्वर गुप्ता के समधि राजेंद्र प्रसाद गुप्ता और नितेश आदि ने विवाद के दौरान इतनी गंभीर मारपीट की, कि रामाश्रय की मौके पर ही मौत हो गई, रामाश्रय के पुत्र विवेक ने बताया कि उसके तथा उसकी बहन प्रभा गुप्ता और पिता रामेश्वर गुप्ता पर राजेंद्र गुप्ता और नितेश आदि ने तलवार और डंडों से गंभीर हमला किया, जिससे उसके पिता की मौत हो गई है और उसकी बहन काफी गंभीर है, विवेक किसी तरह वहां से जान बचाकर भागा, इस संदर्भ में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

विद्यालय जाते समय बंधक बनाकर नाबालिग से सूने घर मे किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार


अनूपपुर

16 वर्षीय नाबालिग को स्कूल जाते समय जान से मारकर फेंक देने की धमकी दे जबरन बाइक में बैठाकर अपने सूने घर ले जाकर बंधक बनाते हुए उसके साथ दो बार दुष्कर्म किए जाने एवं जबरन अपने मोबाइल में उसकी अश्लील फोटो खींचने की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी जगदीश राठौर निवासी बलबहरा के खिलाफ बीएनएस की धारा 137 (2), 87, 64 (2) (एम), 351 (3) एवं लैगिंक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 3, 4, 5, 6 के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार करते हुए उसे न्यायालय में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया। जानकारी के अनुसार दो वर्ष पूर्व भी आरोपी द्वारा उसका अपहरण किया गया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पीडिता ने शिकायत दर्ज कराई कि 19 जुलाई की सुबह जब वह अपनी छोटी बहन को स्कूल छोडने के बाद अपने स्कूल जा रही थी, तभी रास्ते में जगदीश राठौर निवासी बलहरा जिसे वह पूर्व से जानती है मिला और जबरन बाइक में अपने घर ले जाने लगा, मेरे मना करने पर उसने मुझे जाने से मारकर फेंक देने की धमकी देने लगा। जिसके भय से नाबालिग उसके साथ बाइक में बैठ गई। जहां आरोपी जगदीश राठौर उसे अपने सूने घर में ले गया, जहां नाबालिग की माँ और पिता को जान से मारने की धमकी देते हुए बंधक बना जबरन दो बार उसके साथ दुष्कर्म किया और मोबाइल में नबालिक की अश्लील फोटो खींचा, दोपहर लगभग 4 बजे वह मुझे बाइक में बैठाकर मेरे घर पास छोड़ा, जहां मैने अपने परिजनों को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। जिसके बाद परिजनों सहित आसपास के लोगो द्वारा उसे पकड़ लिया और थाने ले गये।

अज्ञात व्यक्ति की ट्रेन की चपेट में आने से मौत, पुलिस कर रही जांच


अनूपपुर

कोतवाली थाना अनूपपुर अंतर्गत अमलई एवं अनूपपुर रेल खंड के मध्य ग्राम परसवार में रविवार की सुबह एक अज्ञात पुरुष का शव जिसकी उम्र 40 से 45 वर्ष है मालगाड़ी की चपेट में आने से कई हिस्सों में बुरी तरह कट कर मृत हो गया रेलवे की सूचना पर कोतवाली पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर आसपास के अनेकों गांव के ग्रामीणों से मृतक के कपड़ों एवं चप्पल के आधार पर पहचान कराने का प्रयास किया किंतु पहचान ना हो पाने के कारण मृतक के शव को जिला अस्पताल अनूपपुर के शव परीक्षण कक्ष के फ्रीजर में सुरक्षित रखा कर पुलिस पता/तलाश में जुटी हुई है।

घटना के संबंध में अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह अनूपपुर रेलवे स्टेशन मास्टर द्वारा कोतवाली थाना में लिखित सूचना दी कि अमलाई से अनूपपुर आने वाले रेल खंड के मध्य किलोमीटर 871/10-8 एवं 6 के मध्य परसवार गांव के पास एक अज्ञात व्यक्ति जिसकी उम्र 40 से 45 वर्ष की रही है अचानक मालगाड़ी से सुबह 5 बजे के लगभग टकरा जाने से मृत हो गया है जिसका शरीर कई भागों में कट कर 30 से 40 मीटर तक अलग-अलग हिस्सों रेलवे ट्रैक के अन्दर एवं बाहर पड़ा हुआ है सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंचकर अज्ञात मृतक के शव का पंचनामा करते हुए परसवार सहित आसपास के अनेको व्यक्तियों से मृतक की पहचान कराने,करने का प्रयास किया मृतक लाल चौकड़ीदार फुल शर्ट,हाफ काली बनियान एवं नीले/सफेद रंग की चप्पल पहने रहा है कि समाचार लिखे जाने तक पहचान नहीं हो सकी है पुलिस ने जिला अस्पताल की शव वाहन की मदद से शव को जिला अस्पताल के शव परीक्षण कक्ष के फ्रीजर में सुरक्षित रखाते हुए पहचान किए जाने का प्रयास कर रही है।

छात्रा ने जनपद सदस्य पर लगाया छेड़छाड़ का आरोप, पुलिस ने किया मामला दर्ज

*मुझे खुश कर दो, मैं तुमको मालामाल कर दूंगा, धमकी के डर से पढ़ाई छूट गई*


शहडोल

अपने पैसे और पद के प्रभाव के फेर में कॉलेज की छात्रा को अपने वश में करने के लिए परेशान जनपद सदस्य विक्रम सिंह की यह मंशा तो पूरी नहीं हुई लेकिन पीड़ित किशोरी की शिकायत पर उसके खिलाफ प्राथमिक की जरूर दर्ज हो गई, पीड़िता ने शिकायत शहडोल पुलिस अधीक्षक कार्यालय में दी थी और उसके बाद यह मामला महिला थाने में पहुंच गया, पीड़िता के बयान के बाद पुलिस ने जनपद सदस्य के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करें मामले की जांच शुरू कर दी है।

*पुलिस ने किया मामला दर्ज*

पीड़ित किशोरी की शिकायत के बाद महिला थाने में आरोपी विक्रम सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 354 (क) तथा 354 (घ) के तहत अपराध कायम किया गया, वहीं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 7 तथा धारा 8 के अलावा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति नृशंसता निवारण अधिनियम 1989 (संशोधन अधिनियम 1915) की धारा 3 (1)(w) व (ll )तथा 3(2)(va)  के तहत अपराध कायम किया गया है, पुलिस ने प्राथमिक की में यह भी लिखा है की घटना 25 मई 2024 से 28 मई 2024 के बीच में करित हुई थी, मामले की प्राथमिक की 19 जुलाई को दर्ज की गई है।

*किशोरी की ये है शिकायत*

पुलिस अधीक्षक को दी गई शिकायत में किशोरी ने उल्लेख किया कि मैं कॉलेज अध्ययनरत छात्रा हूँ, 24 मई 2024 को सुबह 11 बजे के लगभग समग्र आई.डी. के. वाई. सी. के संबंध में कार्यालय ग्राम पंचायत में विक्रम सिंह पिता वीरेन्द्र प्रताप सिंह (जनपद सदस्य) के बुलाने पर गई थी। कार्यालय में केवल विक्रम सिंह अकेले बैठे थे , वहाँ अन्य कर्मचारी नहीं थे। मैंने विक्रम सिंह से कहा कि समग्र केवाईसी ठीक कराना है , आप सचिव को बोलकर करवा दीजिए। विक्रम सिंह ने कहा ठीक है बैठो, आता ही होगा, मैं वहीं बैठ गई। कुछ देर बाद विक्रम सिंह बोले कि अंदर चलो एक जरूरी बात बताना है। मैं उनकी बात पर विश्वास कर अंदर कमरे में चली गई। कमरे में कुछ देर बाद बातचीत करते हुए विक्रम सिंह मेरे कंधे में हाथ रख दिए, इसके बाद वह मेरा हाथ सहलाने लगा। मैं उसकी हरकत से डर गई तथा मैं विरोध करते हुए बोली कि दादा आप क्या कर रहे हैं, यह तो गलत है। उसने कहा कि तुम चुप रहो, कुछ नही होगा, किसी को पता नहीं चलेगा। उसके खराब इरादे को मैं भांप चुकी थी और वहां से हाथ छुड़ाकर भागते-भागते अपने घर आ गई।

*मुझे खुश कर दो कर दूंगा माला-माल*

28 मई को रात्रि 9 बजे विक्रम सिंह का फोन मो.नं. 9826657187 से मेरे मोबाइल में फोन आया, तो बात की उसने शुरू-शुरू में बड़ी बात कर रहा था, मेरी तारीफ कर रहा था, कुछ देर बाद बोला कि मैं तुम्हे पसंद करता हूँ, तुम अच्छी हो मैं किसी से आज तक बात नहीं किया हूँ, लेकिन तुमसे बात कर रहा है। मोबाइल में बोला आई लव यू फिर अकेली में मिलने को कहा, मैं इसका विरोध की। अंत में बोली कि आज के बाद तुम मुझे फोन नहीं करना, तुम मेरा फोन नंबर कहाँ से पाए हो, अगर दुबारा मुझे फोन किया तो ठीक नहीं होगा। इसके बाद विक्रम सिंह 2-3 बार कालेज जाते समय रास्ते में बदतमीजी से बात की, कहा कि तुम्हे जितना पैसा चाहिए ले लो, जमीन ले लो, मालामाल कर दूंगा, बस मुझे खुश कर दो।

*यौन उत्पीडऩ की हो कार्यवाही*

पीडि़ता ने पुलिस अधीक्षक को दी गई शिकायत में उल्लेख किया कि विरोध जताई उसने कहा कि यदि तुम मेरी बात नहीं मानोगी तो, मैं कुछ भी कर सकता हूँ। मैं इस डर से कालेज भी नहीं जा पाती, पढ़ाई का नुकसान हो रहा है, ऐसी दशा में पुलिस को शिकायत करना मेरी मजबूरी बन गई, क्योंकि यह व्यक्ति भविष्य में किसी गंभीर वारदात को अंजाम दे सकता है। अपनी और अपने परिवार की मान मर्यादा को ध्यान में रखकर विलम्ब से शिकायत की, फरियादिया ने विक्रम सिंह पिता वीरेन्द प्रताप सिंह के खिलाफ यौन उत्पीडऩ का प्रयास के संबंध में कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की है।

सरकार के वादा खिलाफी पर एन.एच.एम. संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी रहेंगे समूहिक अवकाश पर

जिले की स्वास्थ्य सेवाओ पर नही पड़ेगा कोई असर-


सीएमएचओ

अनूपपुर

मध्य प्रदेश केबिनेट व राज्य सरकार द्वारा संविदा नीति 2023 मध्य प्रदेश केबीनेट से स्वीकृत कर सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा 22 जुलाई 2023 को संविदा नीति जारी कर समस्त विभागों को तत्कॉल लागू करने के दिशा निर्देश दिए गए थे। परंतु एक वर्ष पूरा होने के उपरांत भी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मध्य प्रदेश द्वारा अब तक मानव संसाधन नीति जारी कर संविदा नीति 2023 के समस्त प्रावधान लागू नहीं किए गए है। जिसे लेकर 22 जुलाई को एन.एच.एम. संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संविदा कर्मचारी विरोधी नीतियों के कारण जिले में 427 एनएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मी सामूहिक अवकाश लेकर सेवा के दौरान मृत हुए साथियो के परिवार को न्याय दिलाने श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करेंगे। वहीं कुछ संविदाकर्मी 22 जुलाई को भोपाल के कार्यक्रम में शामिल होगे। समूहिक अवकाश हेतु मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं सिविल सर्जन को संघ ने ज्ञापन सौंपा हैं।

जिला अध्यक्ष ने बताया कि सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा संविदा नीति जारी कर एन.पी.एस., 5 लाख रूपए का आयुष्मान स्वास्थ्य बीमा संविदाकर्मियों और परिवार को उपलब्ध कराना, ग्रेज्यूटी, अनुकम्पा नियुक्ति, प्रतिवर्ष सीपीआर दर के अनुरूप इंक्रीमेंट, शासकीय कर्मचारियों के समान समस्त अवकाश, शासकीय भर्तियों में संविदा कर्मियों को 50 प्रतिशत का आरक्षण का लाभ, सहित कई ऐसी सुविधाएं है, जो मानव संसाधन नीति के द्वारा स्पष्ट तौर पर लागू होगी। जिसे जारी करने में एनएचएम ने कोई संज्ञान अब तक नहीं लिया है। एक ओर एन. एच. एम. संविदा कर्मियों के लिए नीति लागू करने के आदेश जारी नहीं हो रहे है, लेकिन स्वास्थ्य संचालनालय भोपाल द्वारा स्वास्थ्य विभाग के नियमित पदों के विरूद्ध सेवाएं दे रहे संविदा कर्मियों के आदेश पिछले वर्ष ही जारी कर दिए गए है। ग्रेड-पे सुधार को लेकर 36 से अधिक केडर अपनी अपील प्रस्तुत कर चुके है, लेकिन एक साल हो गया अपील का निराकरण नहीं किया गया है। प्रदेश के 32 हजार एनएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रहे है। 22 जुलाई को एनएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर रहकर संविदा नीति 2023 के बिंदुवार समस्त प्रावधान लागू कराने को लेकर भोपाल कूच कर राज्य स्तरीय कार्यक्रम करेंगे। संविदा जल्द ही अनिश्चित कालीन नीति 2023 लागू करने के आदेश जारी नहीं किये जाता तो अनिश्चित कालीन हड़ताल एवं काम बंद, कलम बंद का सामूहिक निर्णय लिया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अशोक कुमार अवधिया ने बताया कि एनएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी के समूहिक अवकाश में जाने से जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा। कुछ व्यवस्थायें प्रवाहित हो सकती हैं।

मोटरसाइकिल को अज्ञात वाहन ने मारी टक्कर, दो युवक घायल


अनूपपुर। 

कोतवाली थाना अंतर्गत ग्राम सजहा अज्ञात के पास वाहन की टक्कर से दो बाइक सवार युवक गंभीर घायल रूप से घायल हो गया। जिसे जिला चिकित्सालय अनूपपुर लाया गया जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद शहडोल मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिए गया हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार 35 वर्षीय जलेश्वर बैगा पुत्र स्वर्गीय सुंदर बैगा और 30 वर्षीय जगत पुत्र रामखिलावन बैगा अनूपपुर जिला चिकित्सालय से अपनी भाभी को खाना देकर घर ग्राम पंचायत औढेरा जा रहा था। तभी शहडोल अमरकंटक मुख्य मार्ग पर स्थित ग्राम सजहा के पास अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। जिसकी सूचना आसपास के लोगों ने 108 एंबुलेंस को दी। घायलों को 108 एम्बुलेंस की मदद से अनूपपुर जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए युवकों मेडिकल कॉलेज शहडोल रेफर कर दिया। वहीं इस घटना के मामले में अस्पताल चौकी प्रभारी हरपाल सिंह परस्ते ने बताया कि हमें सूचना नहीं मिली है। सूचना मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

बटवारा,नामांतरण व सीमांकन का निराकरण नहीं होने पर तहसीलदार को कमिश्नर किया निलंबित 


अनूपपुर

कमिश्नर शहडोल संभाग बीएस जामोद ने अनूपपुर जिले के जैतहरी तहसील में एसडीएम, तहसीलदार और नायब तहसीलदारों के राजस्व न्यायालयो का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने राजस्व न्यायालय तहसीलदार जैतहरी के न्यायालय  2021, 2022, 2023  में दर्ज राजस्व प्रकरण बटवारा नामांतरण, सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण नहीं होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। कमिश्नर ने राजस्व न्यायालय में नामांतरण, नक्शा तरमीम के प्रकरणों की बड़ी संख्या पर भी कड़ी नाराजगी व्यक्ति की। कमिश्नर ने निरीक्षण के दौरान पाया कि तहसीलदार जैतहरी के राजस्व न्यायालय बड़ी संख्या में राजस्व प्रकरण निराकरण के लिए लंबित हैं, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और प्रवचन शाखा के लिपिको द्वारा राजस्व प्रकरण दर्ज ही नहीं किए गए हैं और राजस्व प्रकरण दर्ज भी किए गए हैं तो प्रकरणों  का निराकरण नहीं किए गए हैं।। कमिश्नर ने राजस्व न्यायालयो में इस प्रकार की अराजक स्थिति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए जैतहरी तहसील में पूर्व में पदस्थ तहसीलदार धनीराम ठाकुर को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने की निर्देश दिए। वही कमिश्नर ने अनविभागीय अधिकारी राजस्व जैतहरी, नायब तहसीलदार एवं राजस्व विभाग के अमले को चेतावनी दी है कि वह राजस्व प्रकरणों में अति गंभीरता पूर्वक कार्य करें। कमिश्नर ने निरीक्षण के दौरान कहां की राजस्व न्यायालयो के कार्यों के सुपरविजन की भारी कमी है, उच्च अधिकारियों, एसडीएम अधीनस्थ राजस्व न्यायालयो का  निरीक्षण नहीं कर रहे हैं इसके कारण राजस्व न्यायालय में कई वर्षों की राजस्व प्रकरण लंबित हैं। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि अधीनस्थ राजस्व न्यायालय, अनुविभागीय  राजस्व अधिकारी, अपर कलेक्टर समय-समय पर निरीक्षण करें। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर अमन वैष्णव, एसडीएम जैतहरी अंजली द्विवेदी, संयुक्त आयुक्त विकास मगन सिंह कनेश सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

एडीजीपी डीसी सागर ने हत्या के फरार आरोपी पर 30 हजार रूपये का ईनाम किया घोषित


शहड़ोल

मृतिका मुन्‍नी बाई पति शिवचरण सिंह उम्र 45 वर्ष निवासी वार्ड क्र. 29 नरसरहा डिपो शहडोल की किसी अज्ञात व्‍यक्ति द्वारा गला घोटकर हत्‍या करने की घटना पर थाना कोतवाली शहडोल में अपराध क्र  430/2024 धारा 103, 238 भारतीय न्‍याय संहिता तहत् अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही है और फरार अज्ञात आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। अज्ञात आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी में सहयोग प्रदान करने वाले व्यक्ति को रूपये 30 हजार ईनाम की घोषणा एडीजीपी डीसी सागर द्वारा की गई है।

उक्‍त घटना की सूचना पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, शहडोल जोन डी.सी. सागर थाना प्रभारी कोतवाली शहडोल एवं अनुसंधान टीम के साथ घटना स्‍थल पहुँचे और अपराध का पर्यवेक्षण कर पुलिस अधीक्षक शहडोल एवं अनुसंधान टीम को अपराध के अनुसंधान में वैज्ञानिक, फोरेंसिक, सायबर फोरेंसिक, परिस्थितिजन्‍य साक्ष्‍य आदि के आधार पर अग्रिम कार्यवाही करने के दिशा निर्देश दिये गये।  पूर्व में पुलिस अधीक्षक शहडोल और एफएसएल अधिकारी द्वारा भी निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण किया गया है। यह उल्‍लेखनीय है कि दिनांक 16 जुलाई 2024 को मृतिका का शव नरसरहा डिपो वार्ड नम्‍बर 29 में नीरज सराफ के बाड़े में तैरते हुए पाया गया था। मर्ग सूचना पर थाना कोतवाली शहडोल में मर्ग क्रमांक 40/2024 धारा 194 बीएनएसएस के तहत् पंजीबद्ध कर जांच की गई और  शव पंचनामा की कार्यवाही की गई। प्राप्‍त पीएम रिपोर्ट में मृतिका की मृत्‍यु गला घोटने से (सांस अवरुद्ध होने के कारण) और मर्ग जांच में मृतिका मुन्‍नी बाई की हत्‍या किसी अज्ञात व्‍यक्ति द्वारा गला दबाकर की जाकर साक्ष्‍य छुपाने के उद्देश्‍य से मृतिका के गले में नायलोन की रस्‍सी में ईंट बांधकर कुएं में फेंकना पाये जाने पर थाना कोतवाली शहडोल में अपराध क्र  430/2024 धारा 103, 238 बीएनएस पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही है। 

सड़क तोड़कर बाउंड्री बॉल का हो रहा अवैध निर्माण, जांच में पाया गया अवैध, नही हुई कार्यवाही


अनूपपुर

जिला मुख्यालय वार्ड़ नं. 09 एस एन शर्मा पिता स्व. कौशल शर्मा द्वारा मकान बनाकर निवास कर रहे हैं। उनके घर के सामने नगर पालिका के द्वारा जो सीसी सड़क का निर्माण कराया गया है सड़क तोड़कर बिना नगर पालिका के अनुमति के बिना बाउंड्री बाल का निर्माण कराया जा रहा है सड़क तोड़ने से नगरपालिका को आर्थिक क्षति पहुँची है। जब वहां के रहवासियों ने इसका विरोध किया तब उन रहवासियों को मकान मालिक धमकी देने पर उतारू हो गया, जिस पर रहवासियों ने शिकायत नगरपालिका अनूपपुर में की गई।  उसके बाद नपा के सहायक राजस्व निरीक्षक गजाला परवीन अपनी टीम के साथ मौका निरीक्षण किया जिसमें यह पाया गया कि एस एन शर्मा गलत तरीके से बाउंड्री बाल का निर्माण कर रहे हैं। जब कि जहाँ दीवाल का पर निर्माण कराया जा रहा है उसके नीचे पानी की पाइप लाइन बिछी हुई हैं जब पाइप लाइन में खराबी आएगी तो उसे कैसे ठीक किया जाएगा। नगर पालिका ने जो 10 फिट के सड़क का निर्माण किया गया है इसके दोनों तरफ नालियां बनाई जाएगी, मगर एस एन शर्मा अपनी धौस दिखाकर सड़क के बगल से दीवाल का निर्माण करवा रहे हैं। नाली के लिए बिलकुल जगह नही छोड़ी जा रही है। 12 जुलाई को नपा की टीम ने निरीक्षण किया तो हो रहे निर्माण को अवैध पाया, मौका पंचनामा बनाकर वहाँ के रहवासियों के बयान दर्ज किए गए थे। लेकिन 8 दिन बीतने के बाद एस एन शर्मा की धौस के आगे नगर पालिका के सीएमओ, अधिकारी, कर्मचारी नतमस्तक दिख रहे हैं। इस मामले की जानकारी वार्ड़ नं. 10 के पार्षद को भी है मगर सारे लोग इस अवैध निर्माण को रोकने में असफल साबित हो रहा है। यही हॉल रहा तो भविष्य में सड़क के ऊपर नालियां बनांनी पड़ेगी। ऐसे निर्माणकर्ता के ऊपर मामला दर्ज कराकर जो सड़क को तोड़ा गया हैं क्षति राशि को वसूल किया जाना चाहिए। वार्ड़ नं. 09 में इसके पहले जो भी सड़क से सटाकर मकान बना लिए है नाली के लिए जगह नही छोड़े हैं ऐसे लोगो के मकान चिन्हित करके उन पर भी नगरपालिका कार्यवाही करे नही तो शहर का जो मास्टर प्लान हैं उसकी धज्जियां उडाने कोई भी परहेज नही करेगा।

*इनका कहना है*

*इस मामले की जानकारी के लिए नगरपालिका अनूपपुर की सीएमओ शिवानी सिंह को मोबाइल नंबर में कॉल किया गया तो उन्होंने कॉल रिसीव नही किया।

इसकी जानकारी कोतवाली में दे दी गई है 23 जुलाई को अवैध अतिक्रमण तोड़ने के लिए सीएमओ अनूपपुर ने आदेश कर दिया है।

*गजाला परवीन सहायक राजस्व निरीक्षक नपा अनूपपुर*

न्यायालय के भीतर घुसकर मचा रहा था उत्पात, कर्मचारी ने रोका तो की मारपीट, आरोपी गिरफ्तार


शहडोल 

जिले के जैतपुर न्यायालय परिसर के भीतर घुसकर उत्पात मचाने के बाद न्यायालय कर्मचारी के साथ गाली-गलौज कर मारपीट करने वाले आरोपी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी जैतपुर रामकुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी प्रदीप कहार 30 वर्ष निवासी जैतपुर, न्यायालय जैतपुर परिसर के भीतर घुस गया और उत्पात मचाने लगा। हल्ला सुनकर न्यायालय के कर्मचारी सूरज मानिकपुरी ने उसे हल्ला करने मना किया। लेकिन आरोपी प्रदीप सूरज पर ही टूट पड़ा और न्यायालय कर्मचारी सूरज मानिकपुरी के साथ जाति का गाली-गलौज करते हुए मारपीट करने लगा। घटना देख काफी लोग एकत्रित हो गए और आरोपी को पकड़ लिया। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। जैतपुर पुलिस घटना स्थल पहुंची और उत्पात मचा रहे युवक को हिरासत में लिया। पुलिस ने बताया कि न्यायालय के भीतर घुसकर उत्पाद मचाने के बाद कर्मचारी के साथ जातिगत गाली-गलौज कर मारपीट की घटना प्रदीप के द्वारा की गई है। मामले की शिकायत सूरज के द्वारा थाने में दर्ज कराई है, आरोपी के विरुद्ध पुलिस ने शासकीय कार्य में बाधा एवं जातिगत गाली-गलौज तथा मारपीट की धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिसे न्यायालय में पेश किया जाएगा। जानकारी के अनुसार, आरोपी के विरुद्ध पूर्व में पॉक्सो एक्ट का मामला दर्ज है और वह आए दिन न्यायालय एवं शासकीय दफ्तरों के इर्द-गिर्द घूमता रहता है, जिसने जैतपुर न्यायालय के भीतर घुसकर ऐसी घटना को अंजाम दिया है।

MKRdezign

,

संपर्क फ़ॉर्म

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget