दबंग पब्लिक प्रवक्ता

*आनंद पाण्डेय शहड़ोल, अनूपपुर, उमरिया*

समाचार 01 फ़ोटो 01

कुदरगढ़ देवी दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं भरा पिकअप पलटा 25 घायल, 4 गंभीर

*घटना सुबह 4 बजे की, घायल अस्पताल में भर्ती, ड्राइवर हुआ फरार*

अनूपपुर

जिले के कोतमा थाना अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 43 में सोमवार-मंगलवार की रात्रि पिकअप पलटने से लगभग 25 लोग घायल हो गये। जिन्हें उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोतमा में भर्ती कराया गया है वहीं 4 की गंभीर हालत को देखते हुए जिला चिकित्सालय के लिए रेफर किया गया है।

शहडोल जिले के बुढार से छत्तीसगढ़ कुदरगढ़ देवी दर्शन करने जा रहे श्रध्दालुओं से भरी पिकअप अनूपपुर के कोतमा राष्ट्रीय राजमार्ग 43 में पैरूचुआ के पास रात लगभग 3-4 बजे बेकाबू होकर पलट गई। वाहन में 25 लोग सवार थे, जिसमें से 18 घायल हो गए। घायलों को 108 एंबुलेंस और डायल 100 से कोतमा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। इसके बाद 4 गंभीर घायलों को जिला अनूपपुर रेफर किया गया हैं। यह सभी एक ही परिवार के लोग वाहन क्रमांक एमपी 66 जी 1827 में ग्राम देवरी से कुदरगढ़ दर्शन करने के लिए जा रहे थे। वहीं मौके से वाहन चालक फरार हो गया। स्थानीय लोगों ने तत्काल 108 एंबुलेंस को सूचना देकर घायलों को उपचार के लिए कोतमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हादसे में 65 वर्षीय राम सिंह, 60 वर्षीय राज सिंह, 22 वर्षीय प्रेमवती, 28 वर्षीय सुनीता सिंह को गंभीर चोट होने पर जिला चिकित्सालय में इलाज हेतु भर्ती कराया गया है। वहीं अन्य लोगों को हल्की चोट आई है, घायलों में बच्चे भी शामिल हैं। पुलिस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

समाचार 02 फ़ोटो 02

बिना पंजीयन नियम विरुद्ध वेदांता अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग ने किया सील

*अस्पताल में कुछ दिन पहले मरीज को लगाया था इंजेक्शन, हालात बिगड़ने पर हो गयी थी मृत्यु*

इंट्रो- जिले के कोतमा स्थित वार्ड नंबर आठ में संचालित वेदांता अस्पताल बगैर अनुमति संचालित होने की शिकायत स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने स्वास्थ्य विभाग से कर कार्रवाई की मांग की हालांकि इस दौरान कोतमा बीएमओ मौके में पहुंच दस्तावेज मांगे ।अस्पताल संचालक के द्वारा किसी प्रकार से दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराया गया, जिसे लेकर अस्पताल को सील कर दिया गया। कुछ लोगो द्वारा स्वास्थ्य विभाग के ऊपर कार्रवाई न करने का दबाव बनाया गया मगर बीएमओ ने मौके पर ही पंचनामा बनाकर पांच बेड के अस्पताल को सील कर दिया ।

अनूपपुर

जिले के कोतमा नगर पालिका अंतर्गत वार्ड क्रमांक 8 में संचालित अवैध रूप से संचालित पांच बेड का अस्पताल वेदांता को बीएमओ आर के वर्मा ने सील कर दिया है। बताया गया कि स्वास्थ्य विभाग से किसी प्रकार की कोई अनुमति इस अस्पताल के लिए नहीं ली गई थी। वहीं कई वर्षों से अवैध रूप से  अस्पताल का संचालन किया जा रहा था । जिसकी शिकायत भाजपा नेता अंकित सोनी के द्वारा स्वास्थ्य विभाग से कर कार्रवाई की मांग की गई थी। शिकायतकर्ता अंकित सोनी ने बताया कि जब स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके में कार्रवाई के लिए पहुंची तो अस्पताल संचालक के द्वारा ना तो अपनी डिग्री दिखाया गया ना ही अस्पताल खोलने के संबंध में स्वास्थ्य विभाग की अनुमति, इस दौरान एमडी शाहनवाज खान अस्पताल का बोर्ड लगा पाया गया। हालांकि जब डिग्री के संबंध में दस्तावेज स्वास्थ्य विभाग ने मांगे तो मौके में शाहनवाज खान के द्वारा किसी प्रकार से डिग्री के संबंध में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं कराया गया, हालांकि मौके में ही बीएमओ ने पंचनामा बनाते हुए यह कार्रवाई की है। बताया गया कुछ दिनों पहले 5500 का एक इंजेक्शन कोतमा नगर के कल्लू पाटस्कर को लगाया गया था। जिसकी हालत इसी अस्पताल में बिगड़ गई थी जिसे आनन-फनन में परिजनों के द्वारा उपचार हेतु जिले से बाहर निजी अस्पताल ले जाया गया ,जहां उसकी मृत्यु हो गई। अगर जांच हो तो मामला खुलकर सामने आ जाएगा की कौन से 5500 सौ का इंजेक्शन एमडी शाहनवाज खान के द्वारा लगाया गया था । कार्यवाही के बाद  कोतमा स्थित वार्ड नंबर आठ में अवैध रूप से संचालित अस्पताल पर सीएचएमओ भी पहुंचे ।

समाचार 03 फ़ोटो 03

हिंदू रीति रिवाज के साथ,शिव मारुति युवा संगठन द्वारा किया गया बंदर का अंतिम संस्कार

अनूपपुर

जिला मुख्यालय सामतपुर तिराहे में लगे ट्रांसफार्मर में करंट लगने पर घायल बंदर को कुत्तों से पीछा छुड़ाकर शिव मारुति युवा संगठन के सदस्यों द्वारा बंदर को सुरक्षित स्थान पर रख कर वन परिक्षेत्र अधिकारी अनुपपुर को सूचना दी गई, मौके पर बीट गार्ड सोन मौहरी राजबली साकेत और उनके साथ रहीस खान मौका स्थल पहुंचे तब तक वह दम तोड चुका था। मौका स्थल में पंचनामा तैयार किया गया इसके बाद बंदर के शव को बीट गार्ड के साथ फारेस्ट कालोनी डिपो सीतापुर में मनुष्य के तरह ही पूरी परंपराओं के साथ उसका दाह संस्कार किया गया।शिव मारुति युवा संगठन के सदस्यों द्वारा बन्दर की आत्मा शांति के लिए मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। 

समाचार 04 फ़ोटो 04

नल जल योजना में लापरवाही, 4 ठेकेदारों का अनुबंध निरस्त 

अनूपपुर

कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड अनूपपुर ने मेसर्स रमेश इंजीनियरिंग ग्राम पोस्ट चुहिरी जिला शहडोल का अनूपपुर जिले के जल जीवन मिशन के अंतर्गत विकासखंड कोतमा के ग्राम कटकोना, हर्री, बेनीबहरा, विकासखंड अनूपपुर के ग्राम चटहाटोला, सकोला, दारसागर, फुलकोना, कोहका एवं ऊरा, इसी प्रकार रामविकास सिंह वार्ड नंबर 4 ए टाइप पौराधार जिला अनूपपुर का अनूपपुर जिले के विकासखंड जैतहरी के ग्राम गोरसी, वेंकटनगर, गौरेला, क्योंटार एवं लपटा, देवेंद्र सिंह हनुमान मंदिर नरेंद्र नगर तहसील हुजूर जिला रीवा का अनूपपुर जिले में नल जल योजना मिशन के अंतर्गत विकासखंड जैतहरी के ग्राम मेडियारास एवं पोड़ी तथा इसी प्रकार प्रमोद सिंह ग्राम पोस्ट धिरौल वार्ड नंबर-2 जिला अनूपपुर का अनूपपुर जिले के जल जीवन मिशन के अंतर्गत विकासखंड जैतहरी के ग्राम सिवनी के किये गये अनुबंधित नलजल योजना का कार्य निर्धारित समयावधि व्यतीत हो जाने के बाद भी अभी तक पूर्ण नही होने पर अनुबंध के धारा-3, अनुबंध की शर्तें, भाग-1 अनुबंध की सामान्य शर्तें पैरा 27.2 के तहत अनुबंध निरस्त कर दिया है एवं जमा अमानत एवं सुरक्षा निधि की राशि को राजसात कर लिया है।

समाचार 05 फ़ोटो 05

प्राथमिक विद्यालय के सामने शासकीय जमीन से हटाया गया अतिक्रमण

अनूपपुर

ग्राम पंचायत पाटन में प्राथमिक विद्यालय भवन के सामने शासकीय भूमि में राजनगर निवासी दिग्विजय सिंह राठौर द्वारा अवैध बाड़ी लगा कर रेत का भण्डारण करते पाए जाने पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई और बाड़ी की फेंसिंग हटाकर उक्त शासकीय भूमि खसरा नम्बर 100/1 रकबा 0.70 हेक्टेयर ग्राम पंचायत पाटन को सुपुर्द किया गया। अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही के दौरान एसडीएम जैतहरी श्रीमती अंजली द्विवेदी, खनिज उप निरीक्षक शकुंतला, नायब तहसीलदार जैतहरी, थाना जैतहरी के प्रधान आरक्षक, ग्राम पंचायत पाटन के सरपंच, पटवारी एवं ग्रामवासी मौजूद रहे।

समाचार 06 फ़ोटो 06

नियम विरुद्ध निजी विद्यालय संचालन पर 14 के संचालकों के विरूद्ध 2-2 लाख रूपये का जुर्माना

*अभिभावकों को ऑनलाइन राशि वापस करने संचालकों को आदेश जारी*

शहडोल

कलेक्टर तरुण भटनागर के निर्देशानुसार जिला शिक्षा अधिकारी एवं सदस्य सचिव जिला समिति ने ब्यौहारी विकासखंड के अशासकीय ड्रीम इंटरनेशलन स्कूल ब्यौहारी, भारतीयम स्कूल ब्यौहारी, क्रिस्ता ज्योति मिशन स्कूल, बुढार विकासखंड के अशासकीय ग्रीन वेल्स पब्लिक स्कूूल बुढार,एमजीएम स्कूल गोपालपुर,ज्ञान निकेेतन इंग्लिश मीडियम स्कूल, विद्यासागर सीनियर स्कूल बुढार, शहडोल  के गुड शेफर्ड कान्वेंट स्कूल सोहागपुर, ज्ञानोदय इंग्लिश मीडियम स्कूल , भारत माता स्कूल, शांति देवी मेमोरियल स्कूल सोहागपुर, सदगुरु पब्लिक स्कूल, एमजीएम स्कूल धनपुरी, स्कूल शहडोल  के संचालकों को आदेश जारी कहा गया है कि संस्था द्वारा सत्र 2022-23 से फीस वृद्धि कर संग्रहित की गई संपूर्ण राशि उनके पालक या अभिभावकों को आनलाइन नेट बैंकिग के माध्यम से 30 दिवस के अंदर वापस किया जाना सुनिश्चित करे एवं उक्त नियम के उपबंध 9 (9) का प्रयोग करते हुए संस्था पर प्रतिदाय आदेश के अतिरिक्त प्रत्येक विद्यालय पर 2-2 लाख रूपये की शास्ति अधिरोपित की जाती है जिसे 30 दिवस के अंदर उक्त नियम के नियम 3(3) अंतर्गत प्रावधानित संचालक, लोक शिक्षण संचालनालय के खाते में जमा कराना सुनिश्चित कर पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करें अन्यथा उक्त राशि भू-राजस्व के बकाया के रूप में वसूल की जा सकेगी। साथ ही विद्यालय/संस्था को चेतावनी दी जाती है कि भविष्य में म.प्र. निजी विद्यालय (फीस तथा संबंधित विषयों का विनियमन) अधिनियम 2017, म.प्र. निजी विद्यालय (फीस तथा संबंधित विषयों का विनियमन) नियम 2020 के उपबंधों तथा मध्यप्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग के मार्गदर्शी सिद्धांतों का पूर्णरूपेण पालन किया जाना सुनिश्चित करें। जारी आदेष में कहा गया है कि विद्यालय कक्षा नर्सरी से कक्षा 12 वीं तक म.प्र. बोर्ड पैटर्न पर संचालित है। विद्यालय द्वारा फीस में 10 प्रतिशत से कम वार्षिक वृद्धि की गयी जिसकी सूचना जिला समिति को नहीं दी गयी। विद्यालय की बेवसाईट चालू नहीं है साथ ही विद्यालय के सूचना पटल पर फीस संरचना एवं पाठ्यपुस्तकों की जानकारी प्रदर्शित नहीं की गयी है। उक्त प्रतिवेदन से स्पष्ट है कि विद्यालय द्वारा म.प्र. निजी विद्यालय (फीस तथा संबंधित विषयों का विनियमन) नियम 2020 के उपबंध क्रमांक 4(1) एवं 6 का उल्लंघन किया गया है।

समाचार 07 फ़ोटो 07

आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत, मॉर्निंग वॉक पर निकले वृद्ध पर किया था हमला

*नाराज लोगो ने सड़क को किया जाम, प्रशासन आया हरकत में, पशुओं को भेजा कांजी हाउस*

शहडोल

जिले में आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत हो गई है जिले में आवारा सांडो का आतंक जारी है, नगर परिषद और नगर पालिका इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिसकी वजह से अब इवनिंग व मॉर्निंग वॉक करने निकल रहे लोग आवारा सांडों का शिकार हो रहे हैं और लोगों की मौत भी हो रही है।10 दिनों के भीतर आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत हुई है जिसके बाद लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। बीते दिनो धनपुरी क्षेत्र में परिवार के साथ इवनिंग वॉक के लिए निकले एक शख्स पर आवारा सांड ने हमला कर दिया जिससे उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई थी ,मौत के बाद नाराज़ लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया था जिसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और आवारा मवेशियों को हंका लगाकर कांजी हाउस ले जाया गया लेकिन यह कार्रवाई केवल दिखावे की थी। अब दूसरी घटना कोतवाली थाना क्षेत्र के बुढार रोड मॉडल सड़क में मॉर्निंग वॉक के लिए निकले सरदार मलविंदर सिंह पदम को बीते दिनों आवारा सांड ने हमला कर गंभीर घायल कर दिया था ,जानकारी के अनुसार लल्लू सिंह चौक में रहने वाले वृद्ध अपने घर से मॉडल सड़क में सुबह-सुबह रोज टहलने निकलते थे इस दौरान बीते दिनों बुढार रोड मॉडल सड़क पर एक आवारा सांड ने इन पर हमला बोल दिया जिसके बाद यह सड़क पर अचेत अवस्था में गिर गए वहीं सड़क से गुजर रहे एक बाइक सवार ने इस घटना को देखा और अचेत पड़े वृद्ध को तत्काल लोगों की मदद से अस्पताल पहुंचाया और घर के लोगों को मामले की जानकारी दी गई जानकारी लगने के बाद सभी लोग मेडिकल कॉलेज शहडोल पहुंचे वृद्ध की हालत डॉक्टर ने गंभीर बताइए उपचार के लिए इन्हें जबलपुर मेडिकल कॉलेज ले जाया गया उपचार के दौरान सरदार मलविंदर सिंह पदम कि बीती रात मौत हो गई है। परिजनों का कहना है कि जिलेभर में आवारा सांड घूम रहे हैं कुछ दिन पहले ही ऐसी घटना घटित हुई थी लेकिन नगर परिषद एवं नगर पालिका के अधिकारियों ने इसे हल्के में ही ले लिया और दिखावे के लिए ही जिला प्रशासन के कहने में कार्यवाही की गई।जिसकी वजह से यह दूसरी घटना भी घटित हो गई है। परिजनों का कहना है कि अब जल्द से जल्द जिले भर में घूम रहे आवारा मवेशियों को हका लगाकर कांजी हाउस में बंद किया जाए जिससे अब फिर से ऐसी घटना घटित ना हो सके। कोतवाली थाना प्रभारी राघवेंद्र तिवारी ने मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि मेडिकल कॉलेज जबलपुर में उपचार के दौरान उनकी मौत हुई है। डायरी जब शहडोल आएगी तो मामले पर मर्ग कायम कर जांच की जाएगी।

समाचार 08 फ़ोटो 08

दो पक्षो में जमीनी विवाद पर महिला पर कुल्हाड़ी से हुआ हमला, मामला हुआ दर्ज

शहड़ोल

शहडोल जिले में जमीन को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि एक पक्ष ने दूसरे पक्ष की महिला पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। दोनों पक्षों में मारपीट हुई। अब हमले का एक वीडियो भी सामने आया है।  

शहडोल जिले के ब्यौहारी थाना क्षेत्र में दिन-प्रतिदिन अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। एक महिला ने बीते दिनों दुकान में आग लगा दी थी, जिसका लाइव वीडियो सामने आया था। घटना के बाद पुलिस ने मामले को तत्काल संज्ञान में लेते हुए महिला को गिरफ्तार किया और उसे जेल भेज दिया। अब ब्यौहारी थाना क्षेत्र के भूलेहरी में जमीनी बात को लेकर दो पक्षों में विवाद हुआ। इस घटना में एक युवक ने दूसरे पक्ष की महिला पर कुल्हाड़ी से हमला कर महिला को घायल कर दिया।

कुल्हाड़ी लेकर दौड़ रहे युवक का वीडियो भी सामने आया है। पुलिस की कार्रवाई से घायल महिला असंतुष्ट है। महिला ने बताया कि जमीनी बात को लेकर विवाद हुआ था। तभी युवक कुल्हाड़ी लेकर महिला की ओर दौड़ा। महिला के सर में हमला बोल दिया। महिला ने अपने बचाव के लिए अपने हाथ को ऊपर कर लिया, जिससे महिला के हाथ में गंभीर चोट आई है। महिला एवं दूसरे पक्ष के लोग घटना के बाद थाना पहुंचे। दोनों पक्षों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है। घायल महिला उमा चतुर्वेदी के हाथ में गंभीर चोट आई है। प्रदीप चतुर्वेदी ने महिला पर हमला किया है। इसका वीडियो परिवार के ही लोगों ने बना लिया। उमा चतुर्वेदी का आरोप है कि दोनों पक्ष जब थाने पहुंचे, तो यह वीडियो पुलिस को दिखाया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों पर ही मामूली धाराओं पर अपराध दर्ज किया है। महिला का कहना है कि उस पर जानलेवा हमला प्रदीप ने किया। प्रदीप के खिलाफ पुलिस ने गंभीर धाराओं में मामला दर्ज नहीं किया है। इस मामले में थाना प्रभारी मोहन पडवार का कहना है कि दोनों पक्षों में जमीनी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। दोनों पक्षों में मारपीट हुई है। महिला पर कुल्हाड़ी से हमला होने का वीडियो सामने आया है। मेडिकल रिपोर्ट के बाद धाराएं बढ़ाई जाएगी।

समाचार 09 फ़ोटो 09

 नियम कानून जेब मे, नगर परिषद जयसिंहनगर में नहीं चलते उच्च न्यायालय के आदेश

*कई वर्षों से अंगद की पैर की तरह जमे हुए हैं सहायक राजस्व निरीक्षक*

शहड़ोल

बात पुरानी हो गई जब कभी भारत का कानून जम्मू कश्मीर में नहीं चलता था जम्मू कश्मीर को लेकर नियम कायदे और अन्य व्यवस्थाएं अलग थी लेकिन बीते समय के साथ भारत सरकार की मजबूत इक्षा शक्ति ने बदलाव कर भारत के जम्मू कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक सभी राज्यों को समान संविधान और सबके लिए एक समान कानून के दायरे में लाकर एक देश के रूप में संगठित करने का कार्य किया। आज देश के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थाए संविधान के तहत निर्देशों, शासकीय नियमो एवं न्यायपलिका के आदेशों का पालन करने के लिए बाध्य है किन्तु मध्यप्रदेश के शहडोल जिले की नगर परिषद जयसिंहनगर के सामने ना तो न्याय पालिका के आदेश टिकते है और ना ही राज्य शासन के आदेश कुछ ऐसे मामले पिछले कुछ महीनो से सामने आए है  जहां नगर परिषद जयसिंहनगर के सामने न्यायलय और शासन के आदेश बौने साबित हो रहे है।

*आदेश के बाद भी जमे सहायक राजस्व निरीक्षक*

प्राप्त जानकारी के अनुसार चंद्र प्रताप कुशवाहा वर्ष 2012 से जयसिंहनगर नगर परिषद में सहायक राजस्व निरीक्षक के पद पर पदस्थ है। इनका स्थानांतरण मध्यप्रदेश शासन नगरीय विकास एवं आवास विभाग मंत्रालय भोपाल के आदेस क्र. 1-177/2021/18-1 विभागीय आदेश क्र.  एफ 1-166/2021/18-1 दिनांक 31 अगस्त 2021 से नगर परिषद जयसिंहनगर जिला शहडोल से नगर परिषद कोटर जिला सतना किया गया था। उक्त स्थानांतरण आदेश के विरुद्ध चंद्र प्रताप कुशवाहा द्वारा उच्च न्यायलय जबलपुर में याचिका क्र. 17648/2021 प्रस्तुत की गई थी। उच्च न्यायालय खंडपीठ जबलपुर द्वारा उक्त याचिका पर 13 सितम्बर 2021 को निर्णय पारित किया गया था जिसमे लेख किया गया कि चंद्र प्रताप कुशवाहा द्वारा अभ्यावेदन में कोई ठोस कारण प्रस्तुत नहीं किया गया है। न्यायालय के याचिका में पुनः राज्य शासन द्वारा 19 जनवरी 2022 को आदेश प्रसारित किया गया कि विभाग के आदेश के पालन में संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास संभाग शहडोल द्वारा भार मुक्त किए जाने हेतु पत्र क्र. 327 दिनांक 14 फरवरी 2022 जारी किया था, किन्तु मुख्य नगर परिषद अधिकारी जयसिंहनगर द्वारा न्यायालय खंडपीठ जबलपुर एवं राज्य शासन के आदेशों की अवहेलना करते हुए स्थानांतरित कर्मचारी को आज दिनांक तक भार मुक्त नहीं किया, आखिर किस वजह से न्यायालय एवं राज्य शासन के आदेश की अवहेलना अब तक की जा रही है।

*श्रमिकों की नियुक्ति पर भी अटका मामला*

गौरतलब है की शासकीय आदेश और उच्च न्यायलय के आदेश की अवहेलना का एक और मामला इस समय चर्चा में है जहां नगर परिषद जयसिंहनगर में वर्ष 2010 से कार्यरत जल प्रदाय श्रमिक घूरसेन सिंह गोंड और बशंत यादव को सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार कथित तौर पर नगर परिषद अध्यक्ष के घरेलू काम को मना करने पर परिषद से निकाल दिया गया जिसके बाद श्रमिकों ने उच्च न्यायलय में वाद दायर कर न्याय की मांग की थी उक्त दायर वाद पर न्यायालय द्वारा कलेक्टर शहडोल को निर्देशित कर श्रमिकों की फरियाद पर कार्यवाही के आदेश दिए गया था। जिस पर उच्च न्यायलय के आदेश के बाद कार्यलाय कलेक्टर जिला शहरी विकास अभिकरण जिला शहडोल द्वारा मुख्य नगर परिषद अधिकारी जयसिंहनगर को कई बार पत्र लिखकर जल प्रदाय श्रमिको की नियुक्ति से संबंधित मूल नस्ती कलेक्टर कार्यालय शहडोल में प्रस्तुत करने का आदेश दिया था, किन्तु मुख्य नगर परिषद अधिकारी जयसिंहनगर द्वारा लगातार वरिष्ठ अधिकारियो के आदेश को टालने का प्रयास किया गया।

समाचार 10 फ़ोटो 10

मनमाने दामों पर शराब बेच रहा शराब दुकान, गांव में जमकर हो रही है पैकारी

 *सरकारी तंत्र हुआ फेल, आबकारी विभाग ठेकेदार पर नही लगा पा रहा है लगाम*

शहड़ोल

जयसिंहनगर में अंग्रेजी शराब दुकान का ठेका एक बार फिर पिछले वर्ष के ठेकेदार को आवंटित होते ही जयसिंहनगर एवं आसपास के क्षेत्र में शराब की पैकारी के मामले तेजी से बढ़ते हुए देखे जा रही। गौरतलब है की पिछले वित्तीय वर्ष में भी ठेकेदार के द्वारा बड़े पैमाने में की गई अवैध रूप से जयसिंहनगर और आसपास से जुड़े गावों में शराब की पैकारी के मामले अखबारों की सुर्खियों में थे। वर्तमान स्थिति में बेधड़क और धड़ल्ले से हो रही अंग्रेजी शराब की पैकारी से जयसिंहनगर के वार्डो के साथ ही करकी, टेटका, भुरका, कनाड़ी, अमझोर और बनसुकुली जैसे गावों में अवैध रूप से अंग्रेजी शराब की दुकाने बंद कमरों से ही संचालित है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार ग्रे रंग की बोलेरो बिना किसी खौफ के गाँव गाँव तक मदिरा की पैकारी में व्यस्त है जो अक्सर कई गावों में अंग्रेजी शराब दुकान के ठेकेदार के गुर्गो को लेकर पैकारी में लिप्त दिखाई देती है सूत्रों की माने तो ठेकेदार को आबकारी अमले से मिली मौन स्वीकृति ने ठेकेदार के हौसले को बुलंद करने का मुख्य कारण है अधिक राजस्व की फेर में कोई भी जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारी ना तो अवैध पैकारी पर कार्यवाही कर रहा है और ना ही ठेकेदार की कार्यशैली पर लगाम लगा पा रहा है।

*बिना रेट लिस्ट के बढ़े हुए दामों में बेच रहे शराब*

शराब पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है पर पीने वालो को शराब के बढ़े हुए दामों ने भी परेशान कर के रखा है जयसिंहनगर में संचालित अंग्रेजी शराब दुकान के संचालक ठेकेदार द्वारा मनमाने रेट पर बिक्री मूल्य से भी ज्यादा दामों पर शराब का विक्रय किया जा रहा है एक तरफ जहां सरकारी आदेश है की हर शराब दुकानदार को शराब की रेट सूची दुकान पर लगाना अनिवार्य है वही जयसिंहनगर में अंग्रेजी शराब दुकान में किसी भी प्रकार की रेट सूची आज तक दुकान में नहीं लगाई गई 220 रूपये की मूल्य की शराब को शराब ठेकेदार के गुर्गो के द्वारा 250 से 300 तक दाम पर बेचा जा रहा है और खरीददार के द्वारा दामों को लेकर सवाल की स्थिति में ठेकेदार के गुर्गे दबंगई और गुंडागर्दी पर उतारू होकर जवाब देने के लिए सदैव तैयार रहते है। अब देखना यह है की आखिर कब शराब के व्यवसाय से जुडी गतिविधियों की देख रेख करने वाला आबकारी अमला अंग्रेजी शराब दुकान जयसिंहनगर की मनमानी पर कार्यवाही करता है या नही।

समाचार

कमिश्नर ने सीसी रोड के निर्माण को निरस्त करने के दिए निर्देश

शहडोल

कमिश्नर शहडोल संभाग बीएस जामोद ने जिला मुख्यालय उमरिया में आईटीआई भवन से कन्या शिक्षा परिसर उमरिया तक खनिज मद से बनाए गए सीसी रोड का निरीक्षण गत दिवस किया था। कमिश्नर ने उक्त रोड को गुणवत्ताहीन पाया तथा आज आयोजित समयावधि पत्रों की बैठक में कमिश्नर ने उक्त सीसी रोड के निर्माण कार्य को निरस्त करने के निर्देश अधीक्षण यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा शहडोल संभाग को दिए।

दो पक्षो में जमीनी विवाद पर महिला पर कुल्हाड़ी से हुआ हमला, मामला हुआ दर्ज


शहड़ोल

शहडोल जिले में जमीन को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि एक पक्ष ने दूसरे पक्ष की महिला पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। दोनों पक्षों में मारपीट हुई। अब हमले का एक वीडियो भी सामने आया है।  

शहडोल जिले के ब्यौहारी थाना क्षेत्र में दिन-प्रतिदिन अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। एक महिला ने बीते दिनों दुकान में आग लगा दी थी, जिसका लाइव वीडियो सामने आया था। घटना के बाद पुलिस ने मामले को तत्काल संज्ञान में लेते हुए महिला को गिरफ्तार किया और उसे जेल भेज दिया। अब ब्यौहारी थाना क्षेत्र के भूलेहरी में जमीनी बात को लेकर दो पक्षों में विवाद हुआ। इस घटना में एक युवक ने दूसरे पक्ष की महिला पर कुल्हाड़ी से हमला कर महिला को घायल कर दिया।

कुल्हाड़ी लेकर दौड़ रहे युवक का वीडियो भी सामने आया है। पुलिस की कार्रवाई से घायल महिला असंतुष्ट है। महिला ने बताया कि जमीनी बात को लेकर विवाद हुआ था। तभी युवक कुल्हाड़ी लेकर महिला की ओर दौड़ा। महिला के सर में हमला बोल दिया। महिला ने अपने बचाव के लिए अपने हाथ को ऊपर कर लिया, जिससे महिला के हाथ में गंभीर चोट आई है। महिला एवं दूसरे पक्ष के लोग घटना के बाद थाना पहुंचे। दोनों पक्षों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है। घायल महिला उमा चतुर्वेदी के हाथ में गंभीर चोट आई है। प्रदीप चतुर्वेदी ने महिला पर हमला किया है। इसका वीडियो परिवार के ही लोगों ने बना लिया। उमा चतुर्वेदी का आरोप है कि दोनों पक्ष जब थाने पहुंचे, तो यह वीडियो पुलिस को दिखाया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों पर ही मामूली धाराओं पर अपराध दर्ज किया है। महिला का कहना है कि उस पर जानलेवा हमला प्रदीप ने किया। प्रदीप के खिलाफ पुलिस ने गंभीर धाराओं में मामला दर्ज नहीं किया है। इस मामले में थाना प्रभारी मोहन पडवार का कहना है कि दोनों पक्षों में जमीनी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। दोनों पक्षों में मारपीट हुई है। महिला पर कुल्हाड़ी से हमला होने का वीडियो सामने आया है। मेडिकल रिपोर्ट के बाद धाराएं बढ़ाई जाएगी।

आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत, मॉर्निंग वॉक पर निकले वृद्ध पर किया था हमला

*नाराज लोगो ने सड़क को किया जाम, प्रशासन आया हरकत में, पशुओं को भेजा कांजी हाउस*


शहडोल

जिले में आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत हो गई है जिले में आवारा सांडो का आतंक जारी है, नगर परिषद और नगर पालिका इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिसकी वजह से अब इवनिंग व मॉर्निंग वॉक करने निकल रहे लोग आवारा सांडों का शिकार हो रहे हैं और लोगों की मौत भी हो रही है।10 दिनों के भीतर आवारा सांड के हमले से दूसरी मौत हुई है जिसके बाद लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। बीते दिनो धनपुरी क्षेत्र में परिवार के साथ इवनिंग वॉक के लिए निकले एक शख्स पर आवारा सांड ने हमला कर दिया जिससे उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई थी ,मौत के बाद नाराज़ लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया था जिसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और आवारा मवेशियों को हंका लगाकर कांजी हाउस ले जाया गया लेकिन यह कार्रवाई केवल दिखावे की थी। अब दूसरी घटना कोतवाली थाना क्षेत्र के बुढार रोड मॉडल सड़क में मॉर्निंग वॉक के लिए निकले सरदार मलविंदर सिंह पदम को बीते दिनों आवारा सांड ने हमला कर गंभीर घायल कर दिया था ,जानकारी के अनुसार लल्लू सिंह चौक में रहने वाले वृद्ध अपने घर से मॉडल सड़क में सुबह-सुबह रोज टहलने निकलते थे इस दौरान बीते दिनों बुढार रोड मॉडल सड़क पर एक आवारा सांड ने इन पर हमला बोल दिया जिसके बाद यह सड़क पर अचेत अवस्था में गिर गए वहीं सड़क से गुजर रहे एक बाइक सवार ने इस घटना को देखा और अचेत पड़े वृद्ध को तत्काल लोगों की मदद से अस्पताल पहुंचाया और घर के लोगों को मामले की जानकारी दी गई जानकारी लगने के बाद सभी लोग मेडिकल कॉलेज शहडोल पहुंचे वृद्ध की हालत डॉक्टर ने गंभीर बताइए उपचार के लिए इन्हें जबलपुर मेडिकल कॉलेज ले जाया गया उपचार के दौरान सरदार मलविंदर सिंह पदम कि बीती रात मौत हो गई है। परिजनों का कहना है कि जिलेभर में आवारा सांड घूम रहे हैं कुछ दिन पहले ही ऐसी घटना घटित हुई थी लेकिन नगर परिषद एवं नगर पालिका के अधिकारियों ने इसे हल्के में ही ले लिया और दिखावे के लिए ही जिला प्रशासन के कहने में कार्यवाही की गई।जिसकी वजह से यह दूसरी घटना भी घटित हो गई है। परिजनों का कहना है कि अब जल्द से जल्द जिले भर में घूम रहे आवारा मवेशियों को हका लगाकर कांजी हाउस में बंद किया जाए जिससे अब फिर से ऐसी घटना घटित ना हो सके। कोतवाली थाना प्रभारी राघवेंद्र तिवारी ने मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि मेडिकल कॉलेज जबलपुर में उपचार के दौरान उनकी मौत हुई है। डायरी जब शहडोल आएगी तो मामले पर मर्ग कायम कर जांच की जाएगी।

MKRdezign

,

संपर्क फ़ॉर्म

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget