अनुदान समाज कल्याण समिति एनजीओ द्वारा मृतिका के परिवार को दिया 5100 की सहायता राशि


अनूपपुर 

जिले के कोलांचल क्षेत्र के राजनगर में  ‌अनुदान समाज कल्याण समिति (एनजीओ) द्वारा वार्ड नं 10 सुभाष नगर की निवासी रामबाई यादव के पुत्र स्व. हेमलाल की पुत्री का पीलिया की बीमारी की वजह से 16 वर्ष की अल्प आयु में निधन हो गया। आर्थिक स्थिति खराब होने से दाह संस्कार करने में समस्या हो रही है इस मैसेज को संज्ञान में लेते हुए अनुदान समाज कल्याण समिति के सदस्यों द्वारा आज मृतका के घर जाकर रामबाई को 5100 रुपए की राशि सहायता के रूप में दी गई जिसमें समिति के सदस्य रूपा जेपी श्रीवास्तव, देवाशीष सिन्हा सिंह, जगदीश पटेल, सुरेंद्र शर्मा, मनोज सिंह, समर बहादुर सिंह  अमित सेन गुप्ता ,पंकज शर्मा, सुमिता शर्मा व आकाश के द्वारा 5100 की राशि रामबाई को उनकी पुत्री के अंतिम संस्कार के लिए दी गई।

वालीबॉल टीम राज्यस्तरीय चैंपियनशिप प्रतियोगिता में दूसरे मैच में भी जीत की हासिल


अनूपपुर

मुरैना के अंबाह में चल रहे पांच दिवसीय मप्र राज्य स्तरीय 69 वीं पुरुष एवम् महिला वॉलीबॉल चैंपियनशिप प्रतियोगिता  में अनूपपुर की पुरूष वर्ग की टीम ने अपने दूसरे मुकाबले में रतलाम को दो शून्य (26-24 व 25-20) से हारकर अपनी जीत बरकरार रखी, यह टीम की लगातर दूसरी जीत है, बताया गया की एक पूल कुल पांच टीमें है, जिसमे अधिक अंक पाने वाली टीम क्वार्टर फाइनल के लिए प्रवेश करेगी। जिला वालीबाल संघ के सह सचिव हरिशंकर यादव रेफरी जितेंद्र पनिका, श्रीमति पार्वती पनिका लगातर खिलाड़ियों का मार्गदर्शन व उत्साहवर्धन कर रहें है । लगातर टीम की दूसरी जीत पर जिला वॉलीवाल के  संरक्षक लक्ष्मण राव, अरुण कुमार सिंह, आशीष त्रिपाठी, पंकज अग्रवाल, अध्यक्ष चैतन्य मिश्रा कार्यकारी अध्यक्ष सिद्धार्थ शिव सिंह, रामखेलावन राठौर उपाध्यक्ष विनोद विंधेश्वरी प्रसाद पाण्डेय,अमित शुक्ला, सोमनाथ प्रचेता ,विनोद सोनी ,रमेश तिवारी  सचिव रामचन्द्र यादव कोषाध्यक्ष प्रदीप यादव सह कोषाध्यक्ष उमेश राय, सह सचिव और स्टेट रेफरी दिनेश कुमार सिह चंदेल, मिथलेश सिंह नेताम ,श्रीमती सुमिता शर्मा ,हरिशंकर यादव स्टेट रैफरी अतुल कुमार यादव ने टीम के इस जीत पर बधाई प्रेषित की है।

पुलिस ने बाइक से निकलवाया मॉडिफाई साइलेंसर


अनूपपुर

साइलेंसर मॉडिफाई करवा कर ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले वाहन चालक पर हुई कार्यवाही। रात्रि कस्बा भ्रमण के दौरान बाइक  चालक तेज आवाज निकालकर ध्वनि प्रदूषण फैलाते हुए  बाइक चलाते पाया गया, जिसे रोक कर चेक करने पर पाया गया कि बाइक चालक ने अपनी बाइक का साइलेंसर मॉडिफाई करवाया है, ताकि तेज ध्वनि, निकालते हुए बाइक चलाई जा सके।  बाइक को जप्त कर साइलेंसर निकलवा कर चालानी कार्रवाई की गई।

क्षेत्रीय पत्रकार संघ द्वारा धूमधाम से मनाई जाएगी नारद जयंती, पत्रकारों का होगा सम्मान


अनूपपुर

सृष्टि निर्माण के समय से मानव जाति के कल्याण के लिए देव दानव और मनुष्य के बीच संवाद स्थापित करने वाले आदि पत्रकार देवर्षि नारद जी का प्राकट्य जेष्ठ मास कृष्ण पक्ष की द्वितीय तिथि को हुआ था। भगवान ब्रह्मा जी के मानस पुत्र देवर्षि नारद मानव जाति के कल्याण के लिए सदैव श्रृष्टि में विचरण करते रहे। देवर्षि नारद जयंती जमुना कोतमा क्षेत्रीय पत्रकार संघ कोतमा द्वारा विगत कई वर्षों से मनाया जा रहा है।25 मई 2024 को आयोजित होने वाले देवर्षि नारद जयंती को लेकर जमुना कोतमा क्षेत्रीय पत्रकार संघ के अध्यक्ष चंदन केवट एवं संयोजक भगवानदास मिश्रा द्वारा प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया गया कि विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी देवर्षि नारद जयंती कार्यक्रम बंकिम बिहार जमुना कॉलरी में आयोजित की जाएगी इस कार्यक्रम में अनूपपुर जिले के समस्त पत्रकार आमंत्रित हैं। इस कार्यक्रम में जिले के सभी पत्रकारों को एवं स्थानीय स्तर पर साहित्यकारों को भी सम्मानित करने का विचार किया गया है। साथ में देवर्षि नारद जयंती स्मारिका 2024 का विमोचन भी किया जाएगा इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि शहडोल संभाग के संभाग आयुक्त बी एस जामोद एवं , इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजाति विश्वविद्यालय अमरकंटक की पूर्वअधिष्ठाता एवं विभागाध्यक्ष पत्रकारिता एवं संचार विभाग की मनीषा शर्मा, जी एस मर्सकोले उप संचालक जनसंपर्क  शहडोल संभाग तथा जमुना कोतमा क्षेत्र के महाप्रबंधक हरजीत सिंह मदान के विशिष्ट आतिथ्य में देवर्षि नारद जयंती एवं सम्मान समारोह संपन्न किया जाएगा। यह कार्यक्रम सायं 5:00 बजे से प्रारंभ हो जाएगा जिसमें सर्वप्रथम देवर्षि नारद एवं मां वीणापाणि का पूजन कर कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी तथा जिले के सभी पत्रकारों एवं साहित्यकारों को सम्मान पत्र स्मृति चिन्ह के साथ सम्मानित किया जाएगा। जमुना कोतमा क्षेत्रीय पत्रकार संघ द्वारा सभी पत्रकारों से अपील की गई है कि अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर अपने विधा के अधिष्ठाता देवर्षि नारद जी का प्रगटोत्सव  को धूमधाम से मनाया जाए।

सेफ्टी विभाग की लापरवाही से आए दिन हो रही दुर्घटनाएं जिम्मेदार मौन - श्रीकांत शुक्ला


अनूपपुर

विगत एक पखवाड़े से जमुना कोतमा क्षेत्र में कुंभकर्णी निद्रा में सोया एरिया का सेफ्टी विभाग विगत दिनों से घटनाओं का क्रम रोकने का नाम नहीं ले रहा निश्चित तौर पर प्रबंधन की लापरवाही उदासीनता को दर्शाता है और कहीं ना कहीं यह प्रतीत होता है कि श्रमिक हित प्रबंधन के लिए मायने नहीं रखते हैं इसीलिए आए दिन चाहे वह मामला 1 व 2 नम्बर खदान पंखधर ऑपरेटर का पैर टूटने का मामला हो वही दूसरा मामला नारायण खदान के सीडीएस विभाग का है। जनरल मजदूर को सीडीएस विभाग में दिन में ड्यूटी लगाई गई जबकि वहां सीडीएस कर्मचारी 6 दिन लगातार काम करते हैं और छुट्टी के दिन अपने निजी स्वार्थ के चलते उसे जनरल मजदूर की ड्यूटी लगाई गई जिसका मोबाइल ड्यूटी के समय सीडीएस रूम के अंदर अचानक विस्फोट हुआ जिसके कारण जिसके कमर के नीचे चोट लगी व रूम में आग लग गई और पूरी बैटरियां जल कर राख हो गईम आनन फानन में प्रबंधन वहां के सामानों को बदलवाकर कर दूसरा लगवाया गया जबकि इस तरह की घोर लापरवाही के कारण जान भी सकती थी मगर उसे घटना से भी प्रबंधन को सीख नही मिली। एक बार फिर एक श्रमिक को मौत के करीब पहुंच गया था बाल बाल बच गया। मगर जिम्मेदार अधिकारी को कोई फर्क नही पड़ रहा है। कोयला मजदूर सभा के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं सांसद प्रतिनिधि श्रीकांत शुक्ला ने कहा कि अगर प्रबंधन इन सभी घटनाओं को अगर गंभीरता से नहीं लिया तो एरिया सेफ्टी विभाग के विरुद्ध मजदूर सभा उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा।

किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष किए मां नर्मदा के दर्शन, कार्यकर्ताओं से की भेंट


अनूपपुर

मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली पवित्र नगरी अमरकंटक में किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह राजपूत सपत्निक मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली अमरकंटक पहुंच मां नर्मदा जी का दर्शन लाभ लिए। उपाध्यक्ष राजपूत अमरकंटक में दो दिवसीय भ्रमण व दर्शन हेतु सपत्नीक आए हुए थे । आज उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं के साथ नर्मदा मंदिर दर्शन कर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ भेंट वार्ता करने के बाद अमरकंटक से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय की ओर प्रस्थान कर गए , वहाँ से वे आगे की ओर प्रस्थान करेंगे । 

किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष अनूपपुर श्याम नारायण शुक्ला ने बताया की उनका आगमन अमरकंटक हुआ है उनसे सौजन्य भेंट वार्ता हुई । उनके आगमन से सभी कार्यकर्ताओं में बढ़ी खुशी का माहौल रहा । चर्चा के दौरान श्री राजपूत जी द्वारा यह बतलाया गया की इस बार लोकसभा चुनाव में हम लोग चार सौ पार जीत की बात कही । यह उनकी वाणी सही और सत्य भी है । मुलाकात बाद वे आगे निकल जायेंगे । उनसे सौजन्य भेंट मुलाकात करने जिले के अनेक कार्यकर्ता पहुंचे हुए है जिनमे प्रमुख रूप से भाजपा मंडल अध्यक्ष वेंकटनगर विजय सिंह राठौर , भाजपा मंडल कार्यालय मंत्री मनोज पाण्डेय, किसान मोर्चा मंडल अध्यक्ष अजय सिंह , मंत्री नर्मदा पटेल , महामंत्री सुरेंद्र सोनी , किसान मोर्चा सोसल मीडिया प्रभारी सुनीत सिंह , वेंकटनगर मीडिया आशीष तिवारी , अमरकंटक के वरिष्ट नेता - पार्षद दिनेश द्विवेदी (सोनू) , पत्रकार आदि मौके पर उपस्थित रहे।

ओपन कॉस्ट प्रोजेक्ट में नियम विरुद्ध कराया जा रहा है कार्य कभी भी हो सकती है दुर्घटना


अनूपपुर

कोयला मजदुर सभा संघ के क्षेत्रीय अध्यक्ष श्री श्रीकांत शुक्ला ने आमादंड ओपन कॉस्ट प्रोजेक्ट में टेकेदारी मजदूर के शोषण के विरुद्ध आवाज उठाई है खदान में विद्युत यांत्रिकी इंजीनियर धीरेंद्र प्रताप सिंह एवं डीडी पांडे के द्वारा टेकेदारी मजदूरों का न तो फार्म डी में हाजिरी लगवाया जा रहा और न हीं उनका प्री मेडिकल चेकअप एवं वी. टी. सी प्रशिक्षण कराया गया है जबकि इसके बिना किसी भी वक्ति को खदान में कार्य करवाना नियम विरुद्ध हैं किंतु उन टेकेदारी मजदूरों से हाई वोल्टेज 33 केवी ओवर हेड लाइन में कार्य करवाया जाता है जबकि टेकेदारी मजदूरों के पास इस कार्य को करने के लिए कोई भी सक्षमता प्रमाण पत्र नहीं है अमाडाड खदान में आई टी आई  अप्रेटेनशीप प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे लड़कों से हाई वोल्टेज ओवर हेड लाइन में कार्य कराया जा रहा बिना शेफ्टी बेल्ट के बिजली के पोल पर चढ़ाया जाता है जिससे कोई भी अप्रिय घटना कभी भी घट सकतीं हैं। श्रीकांत शुक्ला  ने प्रबंधन को आगाह किया है की इस तरह की नियम विरुद्ध गतिविधियों पर तत्काल विराम लगाए अन्यथा किसी भी प्रकार की दुर्घटना  होती है तो इसकी पूर्ण रूप जवाबदेही प्रबंधन की होगी।

अकुशल गार्ड के भरोसे ओपीएम उद्योग की सुरक्षा व्यवस्था आए दिन हो रही चोरी की वारदात

*सुरक्षा अधिकारी व सुरक्षा सुपरवाइजर पर लग रहा है लापरवाही का आरोप*


शहड़ोल/अनूपपुर

एशिया का ख्याति प्राप्त कागज कारखाना किसी न किसी समस्या को लेकर आसपास की निवासरत आबादी के साथ मूलभूत एवं बुनियादी सुविधाओं प्रदूषण को लेकर अखबारों की सुर्खियों में बना रहता है इसी क्रम में विगत कई महीनो से ओरिएंट पेपर मिल कागज कारखाना अमलाई उद्योग की सुरक्षा को लेकर तैनात किए गए एमएसएफ के जवान जिन्हें सुरक्षा के बारे में क ख ग घ तक नहीं पता या फिर कहा जाए तो अनट्रेड व अकुशल सुरक्षा गार्ड् के निगरानी में ओरिएंट पेपर मिल के सुरक्षा अधिकारी मनजीत सिंह एवं सुरक्षा सुपरवाइजर पीके सिंह के द्वारा सिर्फ कागज कारखाना के द्वार पर ठंड कमरे में बैठकर कुछ समय तक ही सुरक्षा व्यवस्था देखी जाती सूत्रों के मुताबिक बताया जाता है कि ओरिएंट पेपर मिल के इतिहास में पहली बार ऐसा सुरक्षा एजेंसी और सुरक्षा अधिकारी और सुरक्षा सुपरवाइजर देखा गया है जिनके द्वारा उद्योग के अंदर और बाहर उद्योग की संपत्ति की हो रही चोरियों को जान बूझकर चोरी कराया जाता है और अनजान बनकर बैठे हुए रहते हैं यही नहीं इनके द्वारा तैनात किए जाने वाले उद्योग के अंदर सुरक्षा गार्ड और बाहर तैनात किए जाने वाले सुरक्षा गार्ड रात्रि कालीन ड्यूटी में गहन निद्रा में लीन रहते हैं और होने वाली चोरीयां या अन्य वारदातों से नज़रे चुराते हुए दिखते हैं इनके द्वारा उद्योग के अंदर कुत्ते पाल कर रखे गए हैं जिनकी सेवा में चार-पांच गार्ड लगाए गए हैं और साथ में सुरक्षा अधिकारी भी लगे रहते हैं लेकिन उन कुत्तों को पिंजरे में कैद करके रखा गया है उनका किसी प्रकार से भी उद्योग की सुरक्षा को लेकर उपयोग नहीं किया जा रहा है सिर्फ दिखावा करने में मशगूल हैं उद्योग के सुरक्षा अधिकारी और सुरक्षा सुपरवाइजर इस प्रकार एमएसएफ सुरक्षा एजेंसी के द्वारा तैनात सुरक्षा गार्ड्स के द्वारा उद्योग के मुख्य द्वार और बंबू गेट में बाहर से आने वाले कच्चा माल परिवहन करने वाले वाहनों से वसूली की जाती है जबकि सुरक्षा नियमों के आधार पर उद्योग के अंदर आने वाले वाहनों को खाली करने की जिम्मेदारी उद्योग के अधिकारियों की है सिर्फ उन्हें एंट्री देने के नाम पर सुरक्षा विभाग के द्वारा तैनात प्राइवेट सुरक्षा एजेंसी के गार्ड वाहन मालिकों व चालकों से एंट्री वसूली की जाती है जबकि उद्योग के द्वारा इनके लिए रहने खाने के साथ मासिक भुगतान भी किया जाता है फिर भी इनके द्वारा दुर दराज से आने वाले वाहन मालिकों व लकड़ी व्यापारियों से जमकर वसूली की जाती है ऐसी स्थिति में ऐसे सुरक्षा अधिकारी और सुरक्षा सुपरवाइजर पर उद्योग की सुरक्षा को लेकर प्रश्न चिन्ह लग रहे हैं।

बारिश से मौसम हुआ ठंडा, सुहाने मौसम में सैलानियों को याद आई शाल व स्वेटर


अनूपपुर

मां नर्मदा की उद्गम स्थल पवित्र नगरी अमरकंटक में अचानक हुई बारिश से क्षेत्र में ठंडक का वातावरण निर्मित हो गया है। अमरकंटक में अनेक जगहों से आए हुए तीर्थ यात्री , पर्यटक व स्थानीय जन मानस को आज के बारिश होने के कारण ठंड के दिनों में पहनने ओढ़ने के वस्त्र याद आने लगे । अमरकंटक का अचानक बदलाव क्षेत्र के साथ ही साथ बाहर से आए सैलानियों को बहुत आनंद का अनुभव हो रहा है । नगर परिषद के सीएमओ चैन सिंह परस्ते ने आज के मौसम में घुली ठंडक के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अमरकंटक में अचानक हुई बारिश से ठंड का माहौल बन गया है जिससे गरम कपड़ो की आवश्यकता महसूस हो रहा है । अमरकंटक के चारो ओर हरे भरे वनों के कारण बारिश होने से जलवायु में परिवर्तन होता रहता है।

शांतिकुटी आश्रम में ध्यान योग और सुरति योग कार्यक्रम से अध्यात्म की गूंज 

*ओशोधारा मैत्री संघ का आयोजन रहेगा तीन दिवसीय*


अनूपपुर    

मां नर्मदा की उद्गम स्थली पवित्र नगरी अमरकंटक के स्थानीय आश्रम शांति कुटी में तीन दिवसीय 19 मई 2024 तक ओशोधारा मैत्री संघ द्वारा ध्यान योग और सुरति योग साधना से अध्यात्म की गूंज नर्मदा उद्गम क्षेत्र में फैल रही है। ओशोधारा मैत्री संघ छत्तीसगढ़ के अनेक साधक इस साधना शिविर आयोजन में सम्मिलित हुए है। 19 तक चलने वाला यह साधना शिविर में अनुभवी आचार्य प्रभाकर दर्शन करतला(कोरबा) , आचार्य अमरेश झा रांची , आचार्य संतोष चंद्रा गौरेला , आचार्य भक्ति मां पूर्णिमा सूरजपुर , आचार्य मां बंदना सिंह परिहार बिलासपुर द्वारा साधना के सूत्र दिए गए।

प्रथम दिवस शिविर के विशिष्ट अतिथि के रूप में शांति कुटी के महंत रामभूषण दास महाराज की गरिमामयी उपस्थिति में आयोजन का सुभारंभ किया गया । इस अवसर पर साधकों का मार्गदर्शन करते हुए ओशोधारा मैत्री संघ के सेंट्रल कोआर्डिनेटर आचार्य दर्शन ने बताया की आज के भौतिकवादी युग में अध्यात्म के जिज्ञासुओं को परमात्मा की प्राप्ति तक पहुंचाने का वैज्ञानिक मार्ग ओशोधारा है । समर्थ गुरु सिद्धार्थ औलिया द्वारा अध्यात्म के सारे मार्गो एवम् धर्म शास्त्रों पर वैज्ञानिक ढंग से गहन चिंतन करते हुए साधकों को साधना के पथ का जो मार्ग दिया गया है वह कभी भी साधक को अपने लक्ष्य से भटकने नही देता । आज ओशो धारा से देश विदेश में लाखो साधक जुड़कर अपनी साधना में लीन है और निरंतर आध्यात्मिक ऊंचाइयों को छू रहे है। ध्यान योग शिविर के दूसरे दिवस नाम दीक्षा का कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसमे आचार्य दर्शन द्वारा 13 (तेरह) साधकों को नाद दीक्षा दी गई , वन्हि सुरति योग में साधकों को दिव्य नाद डिवाइन साउंड से परिचय कराया गया और इसका प्रत्यक्ष अनुभव कराया गया।

ओशोधारा मैत्री संघ छत्तीसगढ़ के राज्य कोआर्डिनेटर आचार्य संतोष चंद्रा ने बताया की मां नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक के सुंदर , मनोरम , दिव्य , पावन , भक्तिमय वातावरण में संतो की भूमि में आयोजित यह साधना शिविर साधकों के लिए वरदान सिद्ध हुआ है । परम गुरु ओशो , गुरु नानक देव, सूफी बाबा की दिव्य उपस्थिति में समर्थ गुरुदेव सिद्धार्थ औलिया का आशीर्वाद सभी साधकों को प्राप्त हुआ । आज दूसरे दिवस मां नर्मदा उद्गम स्थल पर पहुंच संध्या आरती में आचार्य जी की उपस्थिति में भाग लेंगे और भक्तिभाव से मां नर्मदा जी की पूजा अर्चन किया जाएगा। आयोजन के तीसरे दिवस इस का समापन कार्यक्रम होगा । इसके बाद अगले आयोजन की तिथि और स्थान आचार्य दर्शन द्वारा निश्चित कर सूचित किया जावेगा। ओशोधारा संघ छत्तीसगढ़ के साधक इस आयोजन को सफल बनाने में आर डी गुप्ता कोटा , हरीश शर्मा पेंड्रा , अजीत गहलोत गौरेला , नवरतन कश्यप राजनांदगांव , अश्वनी चंद्रा भिलाई  , जय साहू कोरबा , विपिन दर्शन बिलासपुर , नवीन गुप्ता बिलासपुर , नलिनी दर्शन बिलासपुर आदि का विशेष योगदान रहा।

वरिष्ठ पत्रकार राजेश व सुधाकर के पिता का निधन, नेताओं व पत्रकारों ने दी श्रद्धांजलि


अनूपपुर

जिले के वरिष्ठ पत्रकार राजेश पयासी, पत्रकार सुधाकर मिश्रा के परमपूज्य पिता रामदीन पयासी का लंबी बीमारी के बाद उनके गृह निवास नहीं ग्राम लखनौटी (जयसिंहनगर) में निधन हो गया। जैसे ही निधन का समाचार मिला सर्वत्र शोक की लहर व्याप्त हो गई। जिले के पत्रकारो,राजनीतिक दल के नेताओं ने अपना गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि ईश्वर शोक संतप्त परिवार इस अपार पीड़ा को सहन करने की शक्ति प्रदान करें एवं ईश्वर अपने श्री चरणों में स्थान दें।

पूर्व मंत्री एवं अनूपपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक बिसाहूलाल सिंह,शहडोल संसदीय क्षेत्र की सांसद हिमाद्री सिंह,पुष्पराजगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक फुन्देलाल सिंह मार्को,पूर्व विधायक सुदामा सिंह,विधायक जयसिंह मरावी के साथ ही पत्रकारों  जिसमें प्रमुख रूप से जिला जनसंपर्क अधिकारी अमित श्रीवास्तव ,अरविंद बियानी, राजेश शिवहरे, चैतन्य मिश्रा, मनोज द्विवेदी, अजीत मिश्रा, अमित शुक्ला, मनोज शुक्ला, नीरज द्विवेदी, आशीष द्विवेदी, बद्रीनाथ तिवारी, राजकुमार शुक्ला ,राजेश शुक्ला, मुकेश मिश्रा, दीपक सिंह, गणेश रजक, राज नारायण द्विवेदी, हिमांशु बियानी, रामबाबू चौबे, संदीप गर्ग, नियामू अली, धर्मेंद्र कांत तिवारी, बीजू थॉमस ,राजेश सिंह, सुमिता शर्मा, विजय उरमालिया, अनीस तिगाला, लक्ष्मीकांत शुक्ला, सुरेश कुमार सोनी आदि अपनी शोक श्रद्धांजलि अर्पित की है।

4 माह से लापता युवक का पता नही, पत्नी एवं परिजन परेशान, एसपी से लगाई गुहार


 अनूपपुर

अनूपपुर जिले की चचाई थाना अंतर्गत लेबर कॉलोनी बरगवां अमलई निवासी 40 वर्षीय बतीबाई कोल पति श्यामलाल कोल ने तीसरी बार पुलिस अधीक्षक अनूपपुर जितेंद्र सिंह पवांर के समक्ष अपने परिजनों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ मुलाकात कर चार माह से अधिक समय से लापता पति की तलाश कोतमा पुलिस द्वारा नहीं किए जाने से परेशान होना बताते हुए पुनः पत्र सौपा है जिस पर पुलिस अधीक्षक ने थानाप्रभारी कोतमा से दूरभाष पर चर्चा कर गुम इंसान प्रकरण की सतर्कता से जांच कर श्यामलाल का पता लगाये जाने के संबंध में मौखिक एवं लिखित निर्देश दिए हैं।

इस संबंध में पीडिता पत्नी बतीबाई कोल में बताया कि उनके पति श्यामलाल कोल पिता ननकू कोल उम्र 48 वर्ष मजदूरी का काम करते हुए लेबर कॉलोनी बरगवां थाना चचाई में रहते हैं विगत 24 दिसंबर 23 को कोतमा थाना के उरतान गांव के उपसरपंच एवं जनपद सदस्य जो पति से पूर्व से परिचित हैं ने उनके पति को केशवाही में स्थित मरखीदाई मन्दिर में पूजाई के काम में सहयोग करने हेतु बुलाया रहा जहां पर काम करने के बाद से 24 दिसंबर की रात 7 बजे के बाद से पति श्यामलाल कोल का पता नहीं चल रहा है तथा उनका मोबाइल फोन भी स्विच ऑफ बताने से परेशान पत्नी अपने जेठ नानदाउ कोल एवं अन्य के साथ 24 दिसंबर 2023 को कोतमा थाना में पति के गुमने की सूचना दर्ज कराते हुए कार्यवाही की अपेक्षा की रही किंतु पति की खोज नहीं होने पर निरंतर की बार आवेदन देने के बाद भी नहीं मिलने पर निरंतर 4 माह से अधिक समय व्यतीत हो जाने के बाद भी श्यामलाल कोल का कोई आता पता नहीं चलने से अब श्यामलाल की पत्नी एवं परिजनों के द्वारा ग्राम उरतान थाना कोतमा के उपसरपंच एवं जनपद सदस्य पर पति की काम के बहाने बुलाने बाद हत्या कर कहीं दफना देने जैसे आप लगाते हुए जांच की मांग की है।

संतो ने आदि गुरु शंकराचार्य का दीप प्रज्वलित कर जन्म दिवस मनाया


अनूपपुर

मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली पवित्र नगरी अमरकंटक में गीता स्वाध्याय मंदिर में अमरकंटक के अनेक आश्रमों के संत मंडली एकत्रित हो कर आदि गुरु शंकराचार्य का मंत्रोचार करते हुए दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पण पश्चात आरती की गई । अनेक आश्रमों के संतगण आचार्य और महंत सभी ने उन्हें याद किया और उनके बताए सन्मार्ग में चलने की प्रेरणा ली । आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी रामकृष्णानंद महाराज ने अपने वक्तव्य में बताया की आदि गुरु शंकराचार्य का जन्म दिवस है । पूरे देश में उनकी जयंती वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है । आदि गुरु शंकराचार्य का जन्म 788 ईस्वी के दौरान केरल के कालाडी में हुआ था । उन्होंने चार दिसाओ में चार मठों की स्थापना की थी । उत्तर में ज्योतिशपीठ बद्रिकाश्रम, दक्षिण में श्रंगेरीपीठ , पूरब में पुरी गोवर्धन पीठ और पश्चिम के द्वारिका में शारदा पीठ । उन्होंने यह चार मठों की स्थापना धर्म , संस्कृति और देश की सुरक्षा के लिए की थी । आदि गुरु शंकराचार्य ने अल्प आयु में ही वेदों का ज्ञान ले लिया था । पूरे देश में भ्रमण कर अपने ज्ञान की रोशनी से लोगो को जाग्रत किया । आज के इस शुभघड़ी में आचार्य रामकृष्णानंद महाराज मारकंडे आश्रम , महंत स्वामी नर्मदानंद पुरी महाराज गीता स्वाध्याय मंदिर , महंत स्वामी लवलीन महाराज परमहंस धारकुंडी आश्रम , स्वामी धर्मानंद महाराज कल्याण सेवा आश्रम , स्वामी महेश चैतन्य महाराज तुरी आश्रम। स्वामी हनुमान दास महाराज बांधा , स्वामी विवेकगिरी महाराज  गौर कापा छत्तीसगढ़ , स्वामी अमृतानंद (गीता आश्रम) स्वामी रेवा शंकर पुरी महाराज मृत्युंजय आश्रम , स्वामी शिवानंद महाराज धूनीवाले दादा खंडवा , पंडित राम नरेश , दिनेश साहू , पत्रकार आदि प्रमुख संतगण और भक्तगण मिलकर जयंती मनाई गई ।

नेशनल लोक अदालत के प्रचार हेतु जिला न्यायधीश ने वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना


अनूपपुर

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार दिनांक 11 मई 2024 को जिला मुख्यालय अनूपपुर एवं तहसील कोतमा व राजेन्द्रग्राम की सिविल कोर्ट में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जाना है।

नेशनल लोक अदालत को सफल बनाने के लिये एवं अधिक से अधिक प्रकरणों का निराकरण राजीनामा के आधार पर किये जाने हेतु अध्यक्ष/प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश रविन्दर सिंह के द्वारा प्रचार प्रसार हेतु प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है। प्रचार वाहन को रवाना करने के दौरान मोनिका आध्या, सचिव पंकज जायसवाल, प्रथम जिला न्यायाधीश नरेन्द्र पटेल द्वितीय जिला न्यायाधीश चैनवती ताराम, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अंजली शाह, न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री पारूल जैन, न्यायिक मजिस्ट्रेट दिलावर सिंह जिला विधिक सहायता अधिकारी संतदास नापित, चीफ लीगल एड डिफेंस काउंसिल हेमन्त अग्रवाल, जिला अभियोजन अधिकारी  पुष्पेन्द्र मिश्रा जिला लोक अभियोजक सहित अधियक्तागण एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।


पक्षकारों को अधिक से अधिक लाभ दिलाने एवं प्रकरणों का नेशनल लोक अदालत में निराकरण हेतु जिला मुख्यालय अनूपपुर में 06, सिविल न्यायालय कोतमा में 05 एवं सिविल न्यायालय राजेन्द्रग्राम में 03 खण्डपीठों का गठन किया गया है।


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अनूपपुर की सचिव श्रीमती मोनिका आध्या ने बताया है कि लोक अदालत में राजीनामा योग्य दाण्डिक प्रकरण, चेक अनादरण धारा 138 से संबंधित प्रकरण, बैंक वसूली प्रकरण, मोटर दुर्घटना दावा, वैवाहिक प्रकरण, श्रम विवाद, भूमि अधिग्रहण, सिविल प्रकरण एवं बिजली व पानी के बिल से संबंधित प्रकरणों का निराकरण आपसी राजीनामा, सुलह-समझौता के माध्यम से किया जायेगा। नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों के निराकरण हेतु लगातार प्री-सिटिंग का आयोजन पक्षकारों, बैंकों, नगरपालिका, विद्युत विभाग के अधिकारियों के अलावा अधिवक्ताओं के साथ किया जा रहा है।

सरस्वती शिशु विद्यालय ने खोला सार्वजनिक प्याऊ, गुड़ खिला, पानी पिला किया शुभारंभ


अनूपपुर

जिले के सरस्वती शिशु विद्यालय जैतहरी में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी बढ़ती गर्मी को देखते हुए सार्वजनिक पेय जल का शुभारंभ विद्यालय व्यवस्थापक पुष्पेन्द्र नामदेव एस के त्रिपाठी प्राचार्य दीपक उर्मलिया की उपस्थिति में राहगीरों को  गुड़ खिलाकर पानी पिलाया गया प्याऊ का समय प्रातः 11बजे से सायं 4 बजे तक रहेगा। विद्यालय द्वारा राहगीरों के लिए पूरे समय सीतल जल के साथ साथ गुड़ की भी व्यवस्था की गई है। ज्ञात हो कि सरस्वती शिशु विद्यालय शिक्षा के साथ साथ संस्कार और समाज सेवा कार्य में भी हमेसा अग्रसर रहता है निर्धारित पाठ्यक्रम के अलावा, विद्या भारती स्कूल पांच अतिरिक्त विषय पढ़ाते हैं। नैतिक शिक्षा , जिसमें नायकों की कहानियां, गीत, ईमानदारी और व्यक्तिगत स्वच्छता, शारीरिक शिक्षा , जिसमें छड़ी चलाना सीखना, मार्शल आर्ट और योग, संगीत शामिल हैं। , संस्कृत और वैदिक गणित। लड़कियों को कन्या भारती सत्र दिया जाता है जहां वे वास्तविक दुनिया की समस्याओं, विशेष रूप से "महिला-केंद्रित" संवेदनशील मुद्दों पर चर्चा करती हैं और सीखती हैं कि उनसे कैसे निपटना है। उन्हें झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई, अहिल्याभाई होल्कर, रुद्रमादेवी और विभिन्न क्षेत्रों में कल्पना चावला, किरण बेदी, इंद्रा नूयी आदि जैसी अन्य सफल महिलाओं को आदर्श मानते हुए मजबूत नेता बनने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।

मोजर बेयर पॉवर प्लांट से निकलने वाले भारी वाहनों को परिवर्तित मार्ग से चलाया जाए- महेन्द्र सोनी


अनूपपुर

मोजर बेयर पावर प्लांट जैतहरी मे लगने से जहां एक ओर जिले का विकास हुआ है तो वहीं दूसरी ओर मानव जीवन मे विनाश का पहाड़ टूटा हुआ है आये दिन कम्पनी के बड़ी गाड़ियों के सड़क दुघर्टना बढ़ती ही जा रही है जिससे लोग दुर्घटना से काल के गाल मे समाते जा रहें हैं और प्रशासन कार्यवाही की औपचारिकता पूरी कर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर रही है आज तक प्रशासन दुर्घटना रोकने का समाधान नही निकाल पा रही है।

इस संबंध मे जैतहरी नगर के पूर्व पार्षद एवं पूर्व व्यापारी महासंघ जैतहरी के उपाध्यक्ष महेंद्र कुमार सोनी ने बताया कि जिस प्रकार बड़े वाहन हाइवा कैप्सूल हाईवा आदि वाहन जैतहरी से अनूपपुर जिला मुख्यालय के व्यस्त मार्ग से होते हुए कलेक्टर कार्यालय के सामने से गुजरते हुए साँधा मोड़ तक लगभग पच्चीस किलोमीटर की दूरी तय कर आम जन को रौंदते हुए पहुंचता है जिससे कितनों निर्दोषों की बलि चढ़ती है इसको रोकने के लिये जिला प्रशासन चाहे तो मार्ग परिवर्तित कर बड़े वाहनों को मोजर बेयर मटेरियल गेट से जैतहरी राठौर चौक से मुर्रा महुदा, धुरवासिन, रक्सा कोलमी होते हुए फुनंगा नेशनल हाईवे रोड़ तक जाया जा सकता है

जिसकी दूरी लगभग बाइस किलोमीटर है और भीड़भाड़ वाला मार्ग भी नही है वाहनों का आने जाने का समय रात्रि आठ बजे से सुबह सात बजे तक निर्धारित किया जाता है तो दुर्घटना रोकने मे बहुत ही मदद मिलेगी। जिले के कलेक्टर से जैतहरी नगर के पूर्व पार्षद एवं पूर्व व्यापारी महासंघ जैतहरी के उपाध्यक्ष महेंद्र कुमार सोनी ने जनहित मे मांग की है कि कम्पनी के बड़े वाहनों को परिवर्तित मार्ग से चलायें जाने का आदेश जारी करे।

स्कूली बच्चों के सुरक्षित आवागमन हेतु जारी गाइडलाइंस के पालन में स्कूल व बस संचालको की बैठक संपन्न 


अनूपपुर

निर्देशानुसार यातायात पुलिस एवं जिला परिवहन विभाग द्वारा  स्कूली वाहनों में बच्चों की सुरक्षित आवागमन हेतु सर्वोच्च न्यायालय द्वारा प्रत्येक स्कूली वाहन में आवश्यक सुरक्षा उपकरण व सुविधाओं एवं स्कूली वाहनों के संचालन के संबंध में जारी गाइडलाइंस के पालन हेतु  स्कूल संचालकों /बस संचालकों के साथ बैठक आयोजित किया गया उक्त बैठक के दौरान सर्वोच्च न्यायालय के निम्नांकित बिंदुओं के पालन हेतु समस्त स्कूल एवं बस संचालकों को लिखित में प्रतिवेदन प्रदान किया गया 

स्कूली वाहन का रंग पीला होना चाहिए। स्कूली वाहन के आगे और पीछे स्कूल बस/ स्कूल वैन लिखा होना चाहिए। वाहन अनुबंध मे है तो उक्त वाहन पर "ऑन स्कूल ड्यूटी" लिखा होना चाहिए। स्कूल बसों में गति नियंत्रण यंत्र (L.S.D.) लगा होना चाहिए। स्कूल बसों में खिड़कियों पर (होरिजेंटल) ग्रिल होना अनिवार्य है। स्कूल बस/ स्कूल वैन में अग्नि समन यंत्र की सुविधा होनी चाहिए। स्कूल बस/ स्कूल वैन में स्कूल का नाम एवं मोबाइल नंबर अंकित होना चाहिए। स्कूल बस में प्रवेश एवं निर्गमन हेतु पृथक-पृथक दो दरवाजे होने चाहिए। स्कूल बस के ताले ठीक स्थिति में होने चाहिए। स्कूल बस में सीसीटीवी कैमरा एवं जीपीएस सिस्टम लगा हो एवं चालू स्थिति में होना चाहिए। स्कूली वाहन की गति 40 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक नहीं होनी चाहिए। बस में शिक्षित/ प्रशिक्षित परिचालक होना चाहिए। स्कूली वाहन में क्षमता से अधिक सवारी नहीं होने चाहिए। स्कूली वाहन में प्राथमिक चिकित्सा हेतु फर्स्ट एड बॉक्स होना चाहिए। स्कूल वाहन चालक के पास हैवी लाइसेंस होना चाहिए तथा उसको कम से कम 5 साल भारी वाहन चलाने का अनुभव होना चाहिए। वाहन चालक का पुलिस द्वारा चरित्र सत्यापन अवश्य करावें। स्कूल बस में एक प्रशिक्षित कंडक्टर होना चाहिए यदि बस में छात्राएं सफर कर रही हों तो महिला कंडक्टर या शिक्षिका उपस्थित होने चाहिए। उक्त बैठक के दौरान थाना प्रभारी यातायात सुश्री ज्योति दुबे एवं जिला परिवहन अधिकारी सुरेंद्र सिंह गौतम उपस्थित रहे।

जिले में संचालित कानून के 02 विधान, क्या मौन स्वीकृति दे रखे हैं पुलिस कप्तान


अनूपपुर

जिला क्षेत्रांतर्गत संचालित कानून व्यवस्था 02 तरह के मापदण्डों के अनुरूप कार्य कर रही है। इसमें अतिशयोक्ति नही है कि जिले के पुलिस कप्तान‌ कि जिम्मेदारी समूचा जिला क्षेत्र कि कानून-व्यवस्था को बरकरार व दुरुस्त रखने के लिए निर्भीक एवं निष्पक्षता पूर्ण तरीके से प्रतिपालन कराया जाना आवश्यक है। ताकि जिलेभर के भिन्न-भिन्न भू-भागों में रहने वाले रहवासियों में कानून के निष्पक्ष प्रणाली के प्रति विश्वास कायम रहे। साथ ही सभी में आवश्यक रूप से यह मनोविश्वास भी कायम रहे। कि संविधान द्वारा पृदत कानून व्यवस्था का पालन-प्रतिपालन प्रत्येक नागरिकों के लिए एक जैसा ही होना चाहिए। किन्तु अनूपपुर जिला में संविधान के वर्णित नियमों का पालन यद्दपि हो नही पा रहा है। और शासन के मुलाजिम बने पुलिसिया अमला भेदभाव पूर्ण रवैया अपनाकर आदीवासी बाहुल्य अनूपपुर जिलाक्षेत्र में दोहरी कानून व्यवस्थाओं का संचालन करते हुए, आम और खास लोगों के मध्य दूरियों का दीवार खडी़ कर दिए हैं। जिस पर शासन सत्ता में बैठे उच्चस्तरीय जनप्रतिनिधि भी आंख मूंदकर तमाशबीन साबित हो रहे हैं। यही कारण है कि जिला अन्तर्गत भिन्न-भिन्न थानाक्षेत्रों में नियम-कानून का खुलेआम दोहन स्वयं कानून के रक्षकों द्वारा ही किया जा रहा है।

*बीते माह आयोजित हुए डिनर पार्टी में पुलिस कप्तान कि चुप्पी दोहरी कानून व्यवस्था का प्रमाण-*

बीते माह 28 अप्रैल कि शाम बिजुरी थाना परिसर में नगर निरीक्षक विकाश सिंह द्वारा विशाल दावत ए भोज का आयोजन किया गया। जो नियम-कानून के बिल्कुल उलट है। वहीं समूचा देशभर में आदर्श अचार संहिता प्रभावशील होने पश्चात भी भारी तादाद में लोगों को आमंत्रित कर, भीड़ एकत्रित करते हुए। खुलेतौर पर आदर्श आचरण संहिता का भी उल्लंघन किया गया। बावजूद इसके इन कारनामों पर जिला पुलिस अधीक्षक सहित सम्भागीय उच्च शीर्ष पुलिस अमला द्वारा मामले पर किसी तरह का संज्ञानता नही दिखाया गया। जो निश्चिततौर पर साबित करता है। कि जिला व सम्भागीय शीर्षोत्तर पर असीन विभागीय अमला द्वारा आदिवासी बाहुल्य अनूपपुर जिलाक्षेत्र में दो तरह के विधानों का प्रावधान रखा गया है। लिहाजा प्रथम विधान के दायरों में स्वयं के अधीनस्थ कर्मी सहित खास वर्गों को शामिल किया गया है। जिन्हे नियम-कायदों  कि अवहेलना के साथ-साथ मनमर्जी का अधिकार कानून के पहरेदारों कि तरफ से खुलेतौर पर दी गयी है। वहीं द्वितीय विधान के दायरे में प्रशासनिक स्तर से निम्न एवं गरीब वर्गों को शामिल कर रखा गया है। जिन्हे संविधान द्वारा वर्णित न्याय व्यवस्था में इन्साफ के लिए काफी जद्दोजहद से गुजरना पड़ता है। एवं नियम-कानून के प्रतिपालन में थोड़ी सी भी चूक होने पर, इन्हे खाखी के धारकों द्वारा ही न्यायदण्ड विधान संहिता के विपरीत मनमानी तरीकों के यातनाओं से जूझना पड़ता है। जिसकी जानकारी दिन-प्रतिदिन सोशल मीडिया सहित स्थानीय व राष्ट्रीय अखबारों एवं टीवी चैनलों में दिन प्रतिदिन देखने-सुनने को मिलता ही रहता है।

*क्या सम्भाग के शीर्ष पुलिस नेतृत्व भी नियम कायदों के दोहरी मानसिकता का बने हैं शिकार-*

जिला के शीर्ष पुलिस नेतृत्व अर्थात पुलिस अधीक्षक द्वारा अपने विभाग के कारस्तानियों को नजरंदाज करने के एवज में जिले के आम जनमानस कि मानसिकता एवं मनोभावों को नकारकर, कानून कि शाख पर बट्टा लगाने का कार्य तो कर ही रही है। किन्तु सवाल उठता है कि क्या सम्भाग के शीर्ष पुलिस नेतृत्व भी अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के नियम विरुद्ध कारनामों पर चुप्पी साध, यह जताने का प्रयास करेगा कि कानून-व्यवस्था का दोहरा मापदण्ड सिर्फ अनूपपुर जिला ही नही अपितु सम्पूर्ण शहडोल सम्भाग में व्याप्त है। और जब तक वर्तमान शीर्ष पुलिस नेतृत्व कि तैनाती अनूपपुर जिला एवं शहडोल सम्भाग में रहेगी। कानून के दोहरे मापदण्डों का पालन अनिवार्यता ही रहेगी। फिर चाहे प्रदेश कि सरकार सबका साथ सबका विकाश एवं सबका विश्वास का दम्भ क्यूं ही ना भरे।

पत्रकार सुरक्षा कानून सहित 21 सूत्रीय मांगो को लेकर मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ ने सौंपा ज्ञापन


अनूपपुर

पत्रकार सुरक्षा कानून लागू किए जाने सहित 21 सूत्रीय मांगों को लेकर मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ  जिला इकाई अनूपपुर द्वारा श्रमिक दिवस के अवसर पर प्रांतीय अध्यक्ष शलभ भदोरिया जी एवं मोहम्मद अली कार्यकारिणी प्रदेश अध्यक्ष के मार्गदर्शन पर संघ के जिला अध्यक्ष मुकेश मिश्रा, जिला महासचिव चैतन्य मिश्रा ,संभागीय उपाध्यक्ष भरत मिश्रा, अध्यक्ष मंडल के पूर्व उपाध्यक्ष मनोज द्विवेदी, पूर्व  संभागीय अध्यक्ष अजीत मिश्रा, अमित शुक्ला, प्रदीप मिश्रा जिला कार्यवाहक अध्यक्ष, प्रकाश सिंह परिहार, दीपक सिंह, दीपेश जैन ,राजकुमार तिवारी, रवि ओझा , शिव लखन शुक्ला सहित अनूपपुर कोतमा राजेंद्र ग्राम बिजुरी सहित जिले के पत्रकार ने श्रमिक दिवस के अवसर पर अपर कलेक्टर अनूपपुर को 21 सूत्री मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया।

संत मंडल समीक्षा बैठक में वन विभाग ने रुद्रगंगा में इको फ्रेंडली कुटिया दस दिवस में कराएगा पूर्ण

*रुद्रगंगा फक्कड़ बाबा की बन रही इकोफ्रेंडली कुटिया जिस पर संतो की है पूरी नजर*


अनूपपुर

मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली पवित्र नगरी अमरकंटक में रुद्रगंगा स्थल पर अनेक वर्षों पुराना फक्कड़ बाबा की कुटिया फॉरेस्ट विभाग ने कुछ दिनों पहले सुबह 4 बजे अचानक उखाड़ फेंका था जिस पर अमरकंटक साधु समाज व शिष्य भक्तगण काफी नाराजगी जताई थी और आवेदन दे मांग भी रखी थी । जिस पर जिला कलेक्टर ने आश्वाशन दे कहा की टीम गठित कर जांच कराई जाएगी और दोषियों पर कार्यवाही भी होगी साथ ही रुद्रगंगा स्थल पर नया इको फ्रैंडली कुटिया का जल्द निर्माण भी कराया जायेगा । जांच टीम भी अपना निर्वहन कार्य कर रही और फॉरेस्ट विभाग द्वारा भी कार्य कराया भी जा रहा । इसी से संबंधित आज पुनः समीक्षा बैठक कल्याण सेवा आश्रम के पुस्तकालय में अमरकंटक के संत समिति मंडल ने फॉरेस्ट विभाग के एसडीओ और रेंजर की उपस्थिति में बैठक संपन्न हुई जिसमे मुख्य रूप से चर्चा की गई की इको फ्रैंडली कुटिया कब तक तैयार हो पाएगी तथा जो कुटिया अंदर मां नर्मदा जी की स्थापित मूर्ति काले पत्थर की खंडित की जा चुकी है उसे दूसरी लाने में कितना समय लगेगा। रुद्रगंगा में जो ईको फ्रेंडली का कार्य विभाग द्वारा कराया जा रहा है उसमे गति नही है जिस पर साधु समाज ने समय निर्धारण की बात रखी जिस पर फॉरेस्ट विभाग के रेंजर ने दस दिवस काल में पूर्ण करने की बात कही । उपस्थित पुष्पराजगढ़ फॉरेस्ट एसडीओ ने आश्वासन दे कहा की जल्द कार्य पूर्ण होंगे और मां नर्मदा जी की मूर्ति भी जल्द आर्डर से बनवाकर मंगवाई जायेगी । रुद्रगंगा फक्कड़ आश्रम की सीमाओं का भी फेंसिंग लगाकर साथ ही साथ कार्यपूर्ण किया जाय इसे भी विभाग ने पूर्ण करने की बात कही । इको फ्रैंडली हो रहे कार्य पर सभी संत गण, भक्त गणों की रोजाना नजर बनी हुई है । बीच बीच में अधिकारीगण भी स्थल पर मुलाखात हो जाने पर चर्चा कर बेहतर बनाने की जिज्ञासा संत गण करते आ रहे है । आज के इस बैठक में मुख्यरूप से संतो में श्रीमहंत रामभूषण दास महाराज ( शांति कुटी ) , स्वामी धर्मानंद जी महाराज (कल्याण सेवा आश्रम) , स्वामी लवलीन महाराज (परमहंस धारकुंडी आश्रम) , महंत हनुमान दास  महाराज (शिवगोपाल आश्रम) नर्मदा मंदिर पुजारी पंडित धनेश द्विवेदी , संत नाथ बाबा , प्रवीण , पुष्पराजगढ़ एसडीओ फॉरेस्ट प्रदीप खत्री , फॉरेस्ट रेंजर अमरकंटक व्ही के श्रीवास्तव , दिनेश साहू , शिव खैरवार , पत्रकारगण आदि लोग आज के समीक्षा बैठक में उपस्थित रहे।

MKRdezign

,

संपर्क फ़ॉर्म

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget